तब मैंने आडवाणी को जिताया था, अबकी अरुण जेटली को सबक सिखाऊंगा

ram jethmalani1नई दिल्ली। वरिष्‍ठ वकील राम जेठमलानी खुद को इस बात का श्रेय देते हैं कि हवाला मामले में उन्‍होंने ही भाजपा के वरिष्‍ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को जीत दिलवायी थी। उनकी बजाय अगर कोई और आडवाणी का केस लड़ता तो शायद यह जीत मुश्किल होती। अबकी बार वह अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मानहानि के मामले में वह वित्त मंत्री अरूण जेटली के खिलाफ केस लड़ेंगे।

उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि लालकृष्ण आडवाणी के पास रामजेठमलानी थे। अब मैं अरूण जेटली के खिलाफ केस लड़ूंगा। आप इसे भी देखिएगा। जेठमलानी ने साफ तौर पर कहा कि मैं इस तथ्य को नहीं छिपाता कि मैं अरूण जेटली को पसंद नहीं करता हूं।

खुद वकील होते हुए भी जेटली ने जिरह की पेशकश की है के सवाल पर जेठमलानी ने कहा, हर व्यक्ति गलती करता है। उन्‍होंने इस बात से भी इंकार किया कि बीजेपी से उन्हें फोन आया है कि मामले से वह दूर रहें। जेठमलानी ने कहा कि मैं भाजपा की क्यों चिंता करने लगा क्योंकि अरूण जेटली और उनकी मंडली के कारण मैं पार्टी से निकाला गया।

जेठमलानी ने कहा कि इसके बावजूद मैंने मोदी को सत्ता में आने में सहयोग किया। उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि खेल और क्रिकेट निकाय के संचालन का मामला पूरी तरह दिल्ली सरकार के क्षेत्राधिकार में है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button