अयोध्या में राम मंदिर के लिए फिर शुरू हुई हलचल, पुलिस एलर्ट

ram-temple-300x202नई दिल्ली। अयोध्‍या में राम मंदिर बनने की आस लगाए लोगों के लिए एक अच्‍छी खबर है। इसको लेकर रामजन्‍मभूमि ट्रस्‍ट के अध्‍यक्ष नृत्‍य गोपाल दास ने यह दावा किया है। उन्‍होंने बताया कि राम मंदिर निर्माण के लिए तराशे गए पत्‍थरों का शिला पूजन हो चुका है। शिला पूजन के बाद इन पत्‍थरों को एक नई जगह रामसेवकपुरम में रखा जा रहा है। यहां से इनको निर्माण स्‍थल पर भेजने का काम शुरू हो चुका है।

विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) की ओर से अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की खातिर छह महीने पहले देशभर से पत्थर इकट्ठा करने का राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू किया गया था। इसी के तहत जमा किए किए पत्थरों से लदे दो ट्रकों ने रविवार को शहर में प्रवेश किया है। इस पूरी कवायद के बीच जिला पुलिस सतर्क हो गई है और हालात पर नजर रख रही है।

आपको बता दें कि तराशे गए पत्थरों का पूजन इसलिए अहम है क्योंकि प्रस्तावित भव्य राम मंदिर को पत्थरों से ही बनाया जाना है। नृत्य गोपाल दास ने कहा है कि भगवान की कृपा से मोदी की सरकार आ गई है और बहुत जल्द मंदिर निर्माण का काम भी शुरू हो जाएगा।

मंदिर आंदोलन के अगुवा रहे वीएचपी के नेता अशोक सिंघल ने अपने निधन से पहले अपने एक बयान में कहा था कि करीब दो लाख घन मीटर पत्थरों की जरूरत होगी। अयोध्या में सवा लाख घन मीटर पत्थर तैयार हैं।

वीएचपी की ओर से अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की खातिर देशभर से पत्थर इकट्ठा करने का राष्ट्रव्यापी अभियान घोषित करने के करीब छह महीने बाद आज पत्थरों से लदे दो ट्रकों के शहर में प्रवेश करने पर जिला पुलिस सतर्क हो गई और हालात पर नजर रख रही है।

सरकार से मिले संकेत

विहिप के प्रवक्ता शरद शर्मा ने कहा कि अयोध्या में विहिप की संपत्ति राम सेवक पुरम में दो ट्रकों से पत्थर उतारे गये हैं और राम जन्म भूमि के अध्यक्ष महंत नृत्य दास की ओर से शिला पूजन भी किया गया है। इस बीच, महंत नृत्य गोपाल दास ने बताया कि मोदी सरकार से “संकेत” मिले हैं कि मंदिर का निर्माण “अब” कराया जाएगा।

उन्होंने कहा कि अब अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का वक्त आ गया है। आज अयोध्या में ढेर सारे पत्थर पहुंच गये हैं। अब पत्थरों का पहुंचना जारी रहेगा। हमें मोदी सरकार से संकेत मिले हैं कि मंदिर का निर्माण अब किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button