इजरायल चुनाव में राम लगाएंगे बेडा पार, किंगमेकर बनी इस्लामिक पार्टी

तेल अवीव: इजराइल (Israel) में मंगलवार को हुए चुनाव में जिस बात की संभावना जताई जा रही थी ठीक वैसा ही परिणाम भी सामने आया है। चुनाव में कांटे की टक्कर के बाद ‘राम’ नाम की एक कट्टर अरब इस्लामी पार्टी किंगमेकर बनकर उभरी है। इजरायल (Israel) की संसद में कुल 120 सीटें हैं, बेंजामिन नेतन्याहू को बहुमत के लिए कम के कम 61 सीटों की व्यवस्था किसी भी तरिके से हर हाल में करनी होगी। 90 फीसदी वोटों की गिनती गुरुवार सुबह तक हो चुकी है। गिनती होने के बाद भी बेंजामिन नेतन्याहू की पार्टी लिकुड और उसके सहयोगी दलों को 59 सीटें के करीब पहुंच रहे हैं। आपको बता दें कि यूनाइटेड अरब लिस्ट को हिब्रू में राम कहा जाता है।

दोनों बड़ी पार्टियों की नजर राम पर

इस बार के चुनाव में नेतन्याहू के गठबंधन और विरोध पार्टी के बीच कांटे की टक्‍कर है। नेतन्‍याहू की पार्टी को 59 सीट तो विरोध पार्टी को 56 सीटें मिलती दिख रहीं हैं। ऐसे में दोनों बड़ी पार्टियों की नजर इजरायल की राम पार्टी पर नजर टिकी हुई है। ऐसा माना जा रहा है कि इस चुनाव में अगर राम पार्टी को कम से कम 5 सीटें मिलती है और राम पार्टी नेतन्याहू की पार्टी लिकुड को समर्थन देती है तो प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू एक बार फिर से अपनी सरकार बना सकते है।

ये भी पढ़ें : पुलिस लाइन में सिलेंडर फटने से लगी भीषड़ आग, झोपड़ियां जलकर हुई राख

क्या दो पार्टी होंगी साथ?

बेंजामिन नेतन्याहू अपने कट्टर राष्ट्रवादी विचारधारा के लिए जाने जाते हैं और इस चुनाव में उनका जीतना इतना आसान नहीं लगता है। नेतन्‍याहू फिलिस्‍तीनियों को अधिक छूट देने व गाजा पट्टी में इजरायली कॉलोनियों के विस्‍तार को रोके जाने के खिलाफ रहे हैं। इसके विपरीत राम पार्टी का इन मुद्दों पर दूसरा नजरिया रहा है। इसलिए ये भी माना जा रहा है कि दो अलग-अलग विचारधारा वाली पार्टी एक साथ आएगी या नहीं इसका पता तो आने वाले समय में ही चलेगा। इजरायल में किंगमेकर बनकर उभरी राम पार्टी मूलरूप से अरब के लोगों का नेतृत्व करती है।

ये भी पढ़ें : जानिए कैसे करें investment डबल वो भी बिना किसी जोखिम के

Related Articles

Back to top button