IPL
IPL

Ramadan 2021: सउदी अरब में 11 अप्रैल को नहीं दिखा चांद, 13 को होगा पहला रोजा

इस्लामी कैलेंडर के मुताबिक नवां महीना रमजान ( Ramadan ) का होता है।

नई दिल्ली: इस्लामी कैलेंडर के मुताबिक नवां महीना रमजान ( Ramadan ) का होता है। मुस्लिम समाज के लिए रमजान माह की बहुत अहमियत है। इसे बरकतों, रहमतों का महीना माना जाता है। दुनिया के किसी कोने में रहने वाले लोग जो इस्लाम के नक्से कदम पर चलते है। वे लोग रमजान ( Ramadan ) के पूरे महीने अल्लाह की इबादत में मशरुफ रहते है। पांचो वक्त की नमाज अदा करने के साथ कुरान की तिलावत भी करते है।

बता दें कि हर साल चांद का दीदार करने के बाद ही रमजान के पाक महीने की शुरुआत होती है। लोगों को रमज़ान के चांद का खासा इंतजार रहता है। इस बीच गल्फ न्यूज़ ने खबर दी है कि सऊदी अरब में रविवार, 11 अप्रैल को चांद नहीं देखा गया। ऐसे में वहां 13 अप्रैल को पहला रोजा होगा।

सऊदी अरब के सर्वोच्च न्यायालय की ओर से लोगों से रमजान का चांद देखने की अपील की गई थी, लेकिन लेकिन चांद कहीं भी नहीं देखा गया। ऐसे में सऊदी सुप्रीम कोर्ट की ओर से घोषणा की गई है कि चांद रविवार को देश में कहीं भी चांद दिखाई नहीं दिया, जिसके बाद सोमवार को फिर से एक बैठक आयोजित की जाएगी।

उर्दू जियो टीवी की एक रिपोर्ट के मुताबिक इससे पहले सऊदी अरब में चांद देखने वाली कमेटी ने घोषणा की थी कि आज देश में कहीं भी चांद को नहीं देखा गया है, जिसके बाद पहला रोजा मंगलवार, 13 अप्रैल को होगा। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक सऊदी अरब में सऊदी अरब विश्वविद्यालय के खगोलीय वेधशाला के निदेशक अब्दुल्ला अल खजीरी का कहना है रविवार को सभी अरब देशों में रमजान का चांद नहीं दिखा।

यह भी पढ़ें: सुबह-सुबह Running लगाने के देखें अनेक फायदे, दिखेंगे जवान

Related Articles

Back to top button