भाजपा में शामिल पी. रामलिंगम, अमित शाह से कर सकते हैं मुलाकात

पी. रामलिंगम भाजपा में शामिल हुए, अमित शाह से कर सकते है मुलाकात

चेन्नई: द्रविड़ मुनेत्र कषगम( द्रमुक) के पूर्व सांसद के पी. रामलिंगम भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गये और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से उनके मिलने की भी संभावना है।

सुधाकर रेड्डी की उपस्थिति

रामलिंगम को द्रमुक से निलंबित किये जाने के बाद बर्खास्त कर दिया गया था। वह द्रमुक के पूर्व नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री एम के अलगिरी के वफादार माने जाते हैं। वह भाजपा राज्य इकाई के प्रमुख एल मुरुगन, पार्टी राज्य प्रभारी सी टी रवि और सुधाकर रेड्डी की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हुये।

रामलिंगम का बयान

इस दौरान रवि ने रामलिंगम को सदस्यता कार्ड सौंपा। रामलिंगम शाह से मुलाकात कर सकते हैं। रामलिंगम ने संवाददाताओं से कहा कि वह दिवंगत द्रमुक प्रमुख एम करुणानिधि के बड़े पुत्र श्री अलगिरी को भाजपा में लाने का प्रयास करेंगे। रामलिंगम ने कहा, “मैं अलगिरी के समर्थक के रूप में उन्हें (अलगिरी) भाजपा में शामिल करने की कोशिश करूंगा।”

राजनीतिक स्थिति का जायजा

तमिलनाडु के भाजपा प्रभारी सीटी रवि ने पत्रकारों से बोला कि केपी रामलिंगम के भाजपा में आने से द्रमुक की ताकत कम होगी और भाजपा को ताकत हासिल होगी। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज चेन्नई आ रहे हैं और शाम को उनकी मुलाकात रामलिंगम से होगी। गृह मंत्री आज शाम को तमिलनाडु भाजपा नेताओं और जिला अध्यक्षों के साथ बैठक करेंगे और वर्ष 2021 में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले राज्य में मौजूदा राजनीतिक स्थिति का जायजा लेंगे।

2010 में राज्यसभा के लिए नामित

द्रमुक अध्यक्ष एम.के. स्टालिन ने रामलिंगम को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया था। रामलिंगम 1996 में द्रमुक के उम्मीदवार के रूप में लोकसभा के लिए चुने गए और पार्टी ने उन्हें 2010 में राज्यसभा के लिए नामित किया था। वह 1980 और 1984 में रासीपुरम से ऑल इंडिया द्रविड़ मुनैत्र कषगम के विधायक थे।

यह भी पढ़े:ऑस्ट्रेलियन ओपन में 10 प्रतिशत दर्शकों का आना भी बड़ी बात होगी: जोकोविच

यह भी पढ़े:हरियाणा में रैन्ट कलेक्टर 50 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button