IPL
IPL

मधेपुरा में रमेश ऋषिदेव जीत की हैट्रिक लगाने से चूके, पप्पू यादव तीसरे नंबर पर

सिंहेश्वर (सुरक्षित) से सूबे के अनुसूचित जाति-जनजाति एवं कल्याण मंत्री और जदयू के निवर्तमान विधायक रमेश ऋषिदेव सियासी पिच पर जीत की हैट्रिक लगाने से चूक गये.

पटना: बिहार के मधेपुरा जिले में राज्य की नीतीश सरकार में मंत्री रमेश ऋषिदेव सियासी पिच पर जीत की हैट्रिक लगाने से चूक गये, वहीं बिहार की सियासत के दिग्गज नेता माने जाने वाले पूर्व सासंद शरद यादव की पुत्री सुभाषिनी जीत का सेहरा बांधने में सफल नहीं हुयी.

सिंहेश्वर (सुरक्षित) से सूबे के अनुसूचित जाति-जनजाति एवं कल्याण मंत्री और जदयू के निवर्तमान विधायक रमेश ऋषिदेव सियासी पिच पर जीत की हैट्रिक लगाने से चूक गये. जदयू से बागी राजद के टिकट पर पहली बार चुनाव लड़ रहे चंद्रहास चौपाल ने ऋषिदेव को 5573 मतों से मात देकर उनकी जीत की हैट्रिक लगाने को नाकाम कर दिया.

बिहारीगंज विधानसभा सीट से पूर्व सासंद शरद यादव की पुत्री सुभाषिनी महागठबंधन की ओर से कांग्रेस के टिकट पर अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत करने के लिये चुनावी रणभूमि में उतरी. जदयू के निवर्तमान विधायक निरंजन कुमार मेहता ने कांग्रेस की सुभाषिनी को 18711 मतों से पराजित कर उनके राजनीतिक भविष्य पर ग्रहण लगा दिया.

आलमनगर सीट पर जीत का सिक्सर लगा चुके जदयू के निवर्तमान विधायक और विधि मंत्री नरेंद्र नारायण यादव की सातवीं बार जीत का परचम लगाने की कोशिश पूरी होती नजर आ रही है. यादव राजद ने नये सिपाही नवीन कुमार से करीब 30 हजार मतों से बढ़त बनाये हुये हैं.

बिहार के कोसी इलाके की हाईप्रोफाइल मधेपुरा विधानसभा सीट पर प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन (प्रलोग) के मुख्यमंत्री पद उम्मीदवार राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव की जीत के अरमानों पर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के निवर्तमान विधायक और पूर्व मंत्री चंद्रशेखर ने पानी फेर दिया है. यादव तीसरे नंबर पर चल रहे हैं. वहीं (जदयू) के टिकट पर मंडल आयोग के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री बिंदेश्वरी प्रसाद मंडल के पौत्र निखिल मंडल दूसरे नंबर पर चल रहे हैं.

यह भी पढ़े: मामूली विवाद में प्रेमी ने चाकू से हमला कर प्रेमिका को उतारा मौत के घाट

Related Articles

Back to top button