पाकिस्तानी मंत्री के बयान के आधार पर रविशंकर प्रसाद का राहुल गांधी पर निशाना

राहुल गांधी की ओर इशारा करते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सबूत गैंग को भारत के सुरक्षा की कोई चिंता नही है और ना ही इन्हें भारत की सामरिक नीति के बारे में चिंता करना है।

नई दिल्ली: पुलवामा में देश के सैनिकों पर हुए आतंकी हमले पर पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी के कबूलनामे पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी को निशाने पर लिया। मीडिया से बातचीत में उन्होनें कहा कि जिन सबूत गैंग को सबूत चाहिए होते हैं पाकिस्तान ने खुद उन्हें सबूत दे दिया है।

केन्द्रीय मंत्री ने राहुल गांधी को आड़े हाथों लिया

राहुल गांधी की ओर इशारा करते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सबूत गैंग को भारत के सुरक्षा की कोई चिंता नही है और ना ही इन्हें भारत की सामरिक नीति के बारे में चिंता करना है, इन्हें तो बस नरेन्द्र मोदी को किस तरह नीचा दिखाया जाय इस बात की चिंता रहती है।

केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस ने उरी में जवानों की शहादत का सबूत मांगा, पुलवामा हमले को नरेन्द्र मोदी की जीत का एक हथकंडा बता दिया फिर इन्हें बालाकोट पर एयरस्ट्राइक के भी सबूत चाहिए थे। अपनी बात में उन्होनें कहा कि यह तो पाकिस्तान ने भी माना है कि अगर वो अभिनंदन को नही छोड़ते तो नरेन्द्र मोदी की सरकार उन पर जरूर कार्यवाई करती।

युएन में इमरान खान के बयान का भी किया जिक्र

रविशंकर प्रसाद ने इमरान खान के बयान का भी जिक्र किया, उन्होनें कहा कि यदि इमरान खान यूएन में राहुल गांधी के बयान की बात करते हैं तो यह विषय बनना ही है। राफेल पर भी राहुल गांधी ने काफी नीचे स्तर की बात कही पर सच्चाई सामने आ ही जाती है।

कश्मीर में बीजेपी नेताओं की हत्या आतंकियों के भय का सबूत

रविशंकर प्रसाद ने कश्मीर में तीन बीजेपी नेताओं की हत्या की निंदा करते हुए बोला कि यह आतंकियों की बौखलाहट है। जो भी पाकिस्तान से आतंकवादी आए हैं उनके जीवन के सिर्फ कुछ दिन ही बचे हैं। उनका कहना है कि नरेन्द्र मोदी ने आदेश दिया है कि आतंकी चाहे जहां से भी उन पर पहला वार हम नही करेंगे पर हम खुले हाथों से उनको जरूर जवाब देंगे।

गौरतलब है कि पाकिस्तान की संसद में पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने यह कबूल किया था कि पुलवामा में हुआ हमला उन लोगों ने ही कराया था। अपने बयान में उन्होंने कहा था कि पुलवामा की कामयाबी पूरे कौम की कामयाबी है और हमें खुशी है कि हमने भारत को घर में घुस के मारा।

यह भी पढ़ें- दिल्ली में लगातार दूसरे दिन भी ‘गंभीर’ श्रेणी में दर्ज की गई वायु प्रदूषण की स्थिति

Related Articles