अगले साल जून तक बदलें 2005 से पहले के नोट वरना

50rupees note

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक ने 2005 से पहले के नोटों को बदलने की समय सीमा 30 जून, 2016 तक बढ़ा दी है। पहले इसकी लास्‍ट डेट 31 दिसंबर तक थी।

पहले 31 दिसंबर थी लास्ट डेट
इससे पहले आरबीआई ने ऐसे नोटों को बदलने की समय सीमा 31 दिसंबर, 2015 तय की थी। केन्द्रीय बैंक ने एक बयान में कहा कि आरबीआई ने समीक्षा के बाद 2005 से पहले के बैंक नोटों को बदलने की समय सीमा बढ़ाकर 30 जून, 2016 करने का फैसला किया है।

नकली नोटों पर लगेगी लगाम
एक जनवरी, 2016 से इन नोटों को बदलने की सुविधा कुछ चुनिंदा बैंकों की शाखाओं और रिजर्व बैंक के निर्गम कार्यालयों पर ही उपलब्ध होगी। नकली नोटों के कारोबार पर लगाम लगाने के लिए कि इस साल जून में आरबीआई ने इन नोटों को बदलने की समय सीमा 31 दिसंबर 2015 तय की थी। इससे पहले भी कई बार ये अवधि बढ़ाई जा चुकी है।

क्या कहते हैं आंकड़े?
पिछले 13 महीने के दौरान आरबीआई के क्षेत्रीय कार्यालयों में 2005 से पहले के 164 करोड़ कटे-फटे नोट आए हैं, जिनकी कीमत करीब 21,750 करोड़ रुपये है।

कैसे पहचानेंगे 2005 से पुराना नोट?
ऐसे नोटों की पहचान यह है कि 2005 से पहले छपे नोटों में वर्ष नहीं लिखा है। जबकि 2005 के बाद छपे नोटों के पीछे की तरफ नीचे की ओर छोटे साइज में प्रिंटिंग का वर्ष लिखा हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button