आरबीआई ने आरबीएल बैंक पर लगाया 2 करोड़ रुपये का जुर्माना, जाने पूरा मामला

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने सोमवार को नियामक अनुपालन और बैंकिंग विनियमन अधिनियम के नियमों का पालन नहीं करने पर निजी बैंक RBL बैंक पर 2 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है।

आरबीएल बैंक के पर्यवेक्षी मूल्यांकन के बाद, आरबीआई ने एक सहकारी बैंक के नाम पर बचत खाते खोलने और बोर्ड की संरचना के संबंध में कुछ नियामक अनुपालनों के उल्लंघन और बैंकिंग विनियमन अधिनियम के प्रावधानों के गैर-अनुपालन के संबंध में नोटिस जारी किए हैं।

कारण बताओ नोटिस जारी

आरबीआई ने बैंक को नोटिस जारी कर उससे कारण बताने को कहा है कि उसके निर्देशों और बैंकिंग विनियमन अधिनियम के प्रावधानों के उल्लंघन और गैर-अनुपालन के लिए उस पर जुर्माना क्यों नहीं लगाया जाना चाहिए।

जवाब पर विचार के बाद

शीर्ष बैंक ने कहा कि कारण बताओ नोटिस के बैंक के जवाब पर विचार करने के बाद, व्यक्तिगत सुनवाई के दौरान की गई प्रस्तुति और बैंक द्वारा की गई अतिरिक्त प्रस्तुतियों की जांच करने के बाद, आरबीआई इस निष्कर्ष पर पहुंचा है कि उल्लंघन / गैर- अनुपालन की पुष्टि की गई और बैंक पर मौद्रिक दंड लगाया जाना आवश्यक था।

नियामकीय अनुपालन में कमी

आरबीआई ने आगे कहा कि नियामकीय अनुपालन में कमी के चलते यह कार्रवाई की गई है। बैंक द्वारा अपने ग्राहकों के लिए किए गए किसी भी लेनदेन या समझौते की वैधता पर निर्णय लेने का इसका कोई इरादा नहीं है।

आरबीआई ने कहा, “यह कार्रवाई नियामक अनुपालन में कमियों पर आधारित है और बैंक द्वारा अपने ग्राहकों के साथ किए गए किसी भी लेनदेन या समझौते की वैधता पर उच्चारण करने का इरादा नहीं है।”

Related Articles