आरबीआइ ने हटाई Indian Overseas Bank पर लगी पाबंदियां

नई दिल्ली : भारतीय रिजर्व बैंक ने Indian Overseas Bank को बड़ी राहत दी। इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें आरबीआई ने इंडियन ओवरसीज बैंक को प्राम्प्ट करेक्टिव एक्शन फ्रेमवर्क से बाहर करने का फैसला किया है।

फ्रेमवर्क से बाहर आने पर Indian Overseas Bank को दी गई हिदायत

जानकारों के मुताबिक इस फ्रेमवर्क की लिस्ट में शामिल बैंकों पर आरबीआई कई तरह की पाबंदियां लगाता है। ऐसे बैंकों को नए लोन बांटने, शाखाएं खोलने, डिविडेंड देने सहित कारोबार से संबंधित कई तरह की पांबदी लग जाती है। फ्रेमवर्क की लिस्ट से बाहर आने के बाद इंडियन ओवरसीज बैंक से अब यह पाबंदियां हट गई है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें हाल ही में आरबीआइ ने  पब्लिक सेक्टर के यूको बैंक को भी पीसीए फ्रेमवर्क की बंदिशों से बाहर किया था। आरबीआइ की ओर से जारी बयान के मुताबिक, बोर्ड ऑफ फाइनेंशियल सुपरविजन ने इंडियन ओवरसीज बैंक के कामकाज को रिव्यू किया है। उन्होंने पाया, बैंक ने पीसीए पैरामीटर का उल्लंघन नहीं किया है।

अपने बयान में आरबीआइ ने आगे कहा, “ऐसे में इंडियन ओवरसीज बैंक को अब पीसीए फ्रेमवर्क से बाहर निकाला जाता है। बयान में कहा गया कि इंडियन ओवरसीज बैंक ने लिखित में कहा कि वह रेग्युलेटरी संबंधी सभी नियमों को ध्यान में रखेगी।

यह भी पढ़ें : यूनिटेक के फाउंडर Ramesh Chandra की बहु गिरफ्तार

Related Articles