लाल, हरी, पिली बत्ती का नहीं जमा बिल, लखनऊ के 17 चौराहों का संचालन बंद

यूपी की राजधानी लखनऊ में यातयात व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए कई चैराहो पर हरी-लाल बत्ती (ट्रैफिक लाइट) लगवाई गई जिससे की नियमो का पालन करते हुए सड़क पर वाहन चल सके।

लखनऊ: यूपी की राजधानी लखनऊ में यातयात व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए कई चैराहो पर हरी-लाल बत्ती (ट्रैफिक लाइट) लगवाई गई जिससे की नियमो का पालन करते हुए सड़क पर वाहन चल सके। लेकिन यातयात नियंत्रण कार्यालय को सुबह 11 बजे जानकारी मिली कि लखनऊ में 17 चौराहों पर हरी-लाल बत्ती का संचालन बंद हो गई है। इसके बाद जब यातायात प्रबंधन की टीम ने जांच की तो पता चला की विद्युत बिल निस्तारण न होने की वजह से संचालन बंद हो गया हैं।

लखनऊ के 17 जगह के सड़को पर यातायात प्रबंधन में हरी-लाल बत्ती के संचालन न होने पर शहर की यातायात व्यवस्था बिगड़ी हुई है। विभिन्न चौराहों पर यातायात व्यवस्था देख रहे पुलिसकर्मियों ने इस बाबत उच्च अधिकारियों और यातायात उपायुक्त ख्याति गर्ग तक सूचना दी। एक साथ 17 चौराहों पर यातायात समस्या आने के बाद उसे सुचारु रुप से सही करने में समय लगा। इसकी जानकारी लगने पर यातायात से जुड़े अधिकारियों के हाथ पांव फूल गये और मीडिया के फोन उठाने बंद कर दिए। इस दौरान कुछ भाजपा नेताओं एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भी फोन से वार्ता करने का प्रयास किया, लेकिन किसी का भी फोन उठाकर कोई जवाब नहीं दिया।

ये भी पढ़े : एक्शन में नवनियुक्त पुलिस कमिश्नर, थाना बंथरा का किया औचक निरीक्षण

आपको बता दें कि, लखनऊ में 17 चौराहों हजरतगंज चौराहा, इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान चौराहा, सिकंदर बाग चौराहा, सीएमएस चौराहा, हनीमैन चौराहा, कठौता चौराहा, ग्वारी चौराहा, मनोज पांडे चौराहा, एलडीए मोड़ चौराहा, अब्दुल हमीद चौराहा, कटाई पुल चौराहा, राम राम बैंक चौराहा, आईटी चौराहा, लाल बत्ती चौराहा, दरियाबाद चौराहा, परिवर्तन चौक, कचहरी चौराहा पर हरी-लाल बत्ती का प्रबंधन कुछ घंटों के लिए बंद पाया गया। जहां स्थानीय थाने के पुलिसकर्मियों और यातायात प्रबंधन से जुड़े पुलिसकर्मियों ने यातायात व्यवस्था सम्भाली।

Related Articles

Back to top button