‘राफेल रॉबरी’ का जिक्र करते हुए राहुल ने जेटली को दिखाई गर्मजोशी, दिया 24 घंटे का ये चैलेंज

0

कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी लोकसभा के बाद एक फ्रीर राफेल रॉबरी’ मुद्दे को लेकर चर्चा में हैं। उनहोंने वित्त मंत्री अरुण जेटली पर निशाना साधते हुए राफेल सौदे का सच सामने लाने के लिए संयुक्त समिति से करवाने की चुनौती दी है। यही नहीं बल्कि राहुल ने इसका जवाब जानने के लिए जेटली को सिर्फ 24 घंटे का वक्त दिया है।

‘राफेल रॉबरी’ का जिक्र करते हुए राहुल ने जेटली को दिखाई गर्मजोशी, दिया 24 घंटे का ये चैलेंज…

राफेल विमान सौदे में भ्रष्टाचार का आरोप लगाने राहुल गांधी इस मुद्दे को लेकर गर्मजोशी दिखा रहे हैं। बुधवार (29 अगस्त) को ही न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए बयान में वित्त मंत्री जेटली ने राहुल गांधी को प्राइमरी स्कूल का बच्चा बताया था। यही नहीं बल्कि उन्होंने कांग्रेस पर देश की सुरक्षा व्यवस्था के साथ हमेशा ही समझौता करने का भी आरोप लगाया था।

ये है पूरा मामला…

राहुल गांधी ने अरुण जेटली को संबोधित करते हुए ट्वीट कर लिखा देश का ध्यान ‘राफेल रॉबरी’ की तरफ लाने के लिए जेटली का धन्यवाद। क्या राफेल डील की जांच संसद की संयुक्त समिति से कराई जाए ? इस पर आपको क्या कहना है? लेकिन इस जांच से आपके सुप्रीम लीडर को परेशानी है क्योंकि वह अपने दोस्तों का बचाव कर रहे हैं। यह जांच उनके लिए असुविधाजनक हो सकती है। आप हमें इसका जवाब 24 घंटे में दें, हम प्रतीक्षा कर रहे हैं।

राफेल मुद्दे पर अरुण जेटली ने राहुल गांधी के आरोपों पर अपने इंटरव्यू में सफाई दी । एएनआई को दिए अपने इंटरव्यू में जेटली ने राहुल गांधी के भ्रष्टाचार के आरोपों को सिरे से खारिज किया था। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस अध्यक्ष राफेल की कीमतों पर जो कुछ कह रहे हैं वह तथ्यात्मक रूप से गलत है।

जेटली ने कहा कि राहुल गांधी अभी तक राफेल विमान की सात अलग-अलग कीमतें बता चुके हैं। उनके बयानों से ही समझा जा सकता है कि उन्हें इस मामले के बारे में कितनी जानकारी है? जेटली ने अपने इंटरव्यू में कहा था कि ये सौदा दो देशों की सरकारों के बीच में हुआ है। इस सौदे में किसी भी निजी कंपनी की जगह नहीं थी।

loading...
शेयर करें