लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान रद्द ट्रेनों के रिफंड मिलने की अवधि बढ़ी

रेलवे के काउंटरों से लॉकडाउन के दौरान रद्द ट्रेनों के रिफंड मिलने की अवधि बढ़ी

नई दिल्ली: रेलवे (Railway) के काउंटरों से लॉकडाउन के दौरान यात्रा के लिए बुक कराये गये टिकट रद्द कराने और रिफंड पाने के लिए समय सीमा बढ़ाकर यात्रा की तारीख से नौ महीने कर दी गई है।

रेलवे ने दी जानकारी

रेलवे ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान यात्रा के लिए जिन यात्रियों ने नियमित ट्रेनों के टिकट बुक कराये थे, लेकिन ट्रेन रद्द कर दी गई उनके रिफंड नौ महीने तक लिये जा सकेंगे। इनकी यात्रा की तारीख 21 मार्च से 31 जुलाई 2020 के बीच होनी चाहिये। पहले रेलवे ने इसके लिए समय सीमा बढ़ाकर छह महीने की थी। जिन यात्रियों ने 139 पर फोन करके या आईआरसीटीसी की वेबसाइट के माध्यम से काउंटर टिकट रद्द कराये हैं वे भी यात्रा की तारीख से नौ महीने तक टिकट सरेंडर करा सकते हैं।

यह भी पढ़ेदो पटरियों पर आगे बढ़ रहा है इंफ्रास्ट्रक्चर (Infrastructure) का काम: मोदी

रेलवे ने स्पष्ट किया है कि छह महीने के पहले दिये गये समय के बाद भी जोनल क्लेम कार्यालयों में टिकट जमा कराये हैं उन्हें भी पूरा रिफंड दिया जायेगा।

यह भी पढ़ेवॉशिंगटन हिंसा (Washington violence) में अब तक 50 से अधिक लोगों की हुई गिरफ्तारी

Related Articles