अठारह लाख करोड़ का मार्केट कैप होने के करीब Reliance Industries

नई दिल्ली : मंगलवार को Reliance Industries के शेयर में आये रिकॉर्ड उछाल से कम्पनी का देश की मोस्ट वैल्युएबल कंपनी बनने का रास्ता लगभग साफ़ हो गया है। इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें इसके साथ ही रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैपिटलाइजेशन बढ़कर 17.5 लाख करोड़ रुपए हो गया।

Reliance Industries मार्केट वैल्यू के हिसाब से सबसे बड़ी भारतीय कंपनी है

बिज़नेस सेशन के दौरान इक्विटी बेंचमार्क सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त में रिलायंस के शेयरों का सबसे बड़ा योगदान था। रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर ने हाल के दिनों में कई रिकॉर्ड तोड़े हैं। कंपनी के शेयरों में लेटेस्ट रिकॉर्ड हाई विदेशी ब्रोकरेज मॉर्गन स्टेनली की तरफ से शेयर पर अपना टारगेट प्राइस बढ़ाकर 2,925 रुपए करने के बाद आया। स्टॉक पर इसकी ओवरवेट रेटिंग है।

इस कड़ी में मॉर्गन स्टेनली ने कहा कि अगले दशक में रिलायंस इंडस्ट्रीज के लिए सिलिकॉन और हाइड्रोजन के “नए ऑइल” के रूप में उभरने की उम्मीद है। आपको बता दें पिछले महीने ही रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा था कि उनके ग्रुप ने 75,000 करोड़ रुपए के निवेश से जामनगर में ग्रीन एनर्जी कॉम्प्लेक्स का डेवलपमेंट शुरू किया है। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय जलवायु शिखर सम्मेलन 2021 में अपने भाषण में कहा, “कॉम्प्लेक्स में चार गीगा फैक्ट्रियां होंगी।”

रिलायंस इंडस्ट्रीज मार्केट वैल्यू के हिसाब से सबसे बड़ी भारतीय कंपनी है। इसके बाद टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, एचडीएफसी बैंक और इनफ़ोसिस हैं।

यह भी पढ़ें : Airtel VI : वन टाइम स्पेक्ट्रम चार्ज पर सरकार समझौते के लिए तैयार

Related Articles