रिलायंस जियो ने 700 करोड़ रुपए में इस दिग्गज कंपनी को खरीदा

नई दिल्ली: रिलायंस इंडस्ट्रीज ने बुधवार को घोषणा की है कि उसकी सहयोगी कंपनी रिलायंस जियो डिजिटल सर्विस लिमिटेड ने हैप्टिक इंफोटेक प्राइवेट लिमिटेड का अधिग्रहण कर लिया है। रिलांयस जियो ने हैप्टिक का अधिग्रहण 700 करोड़ रुपए में किया है। हैप्टिक की टीम पहले की तरह ही बिजनेस ग्रोथ, इंटरप्राइसेस प्लेटफॉर्म और डिजिटल कंज्यूमर असिस्टेंट के तौर पर काम करती रहेगी।

इस करार के तहत रिलायंस के पास हैप्टिक की लगभग 87 फीसदी हिस्सेदारी होगी, जबकि बाकि की हिस्सेदारी हैप्टिक के फाउंडर और कर्मचारियों के पास होगी। रिलायंस जियो के निदेशक आकाश अंबानी ने कहा कि हम इस भागीदारी की घोषणा कर खुश हैं और हैप्टिक की अनुभवी टीम के साथ काम करने को लेकर नजरिया सकारात्मक है।

व्यापार हस्तांतरण समझौते पर रिलायंस जियो डिजिटल सर्विसेज लि. तथा हैप्टिक इन्फोटेक प्राइवेट लि. ने हस्ताक्षर किये। बयान के अनुसार यह सौदा करीब 700 करोड़ रुपए का है। इसमें वृद्धि और विस्तार के लिये निवेश शामिल हैं। इस निवेश से हैप्टिक को बुस्ट मिलेगा। बता दें कि हैप्टिक वार्तालाप संबंधी दुनिया के सबसे बड़े आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) मंचों में शुमार है।

रिलायंस जियो के डायरेक्टर आकाश अंबानी ने इस करार के मौके पर कहा, ‘इस समझौते के तहत डिजिटल इकोसिस्टम बुस्ट होगा और भारतीय यूजर्स को विभिन्न भाषाओं की क्षमता के साथ वार्तालाप एआई सेवा मिलेगी।’ उन्होंने कहा कि हम मानते हैं कि भारत में वॉइस इंट्रैक्शन प्राइमरी इंट्रैक्शन होता है। हमें इस साझेदारी की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। हैप्टिक के जरिए करोड़ों लोगों को बेहतर कनेक्टिविटी और बेहतर कम्यूनिकेशन एक्सपीरियंस मिलेगा।

Related Articles