खतरे के निशान के ऊपर बह रही नदी का राहत आयुक्त रख रहे ध्यान, कर रहे लोगो की मदद

लखनऊः यूपी में लगातार हो रही बारिश के कारण हालात खराब हो चुके है। यूपी के राहत आयुक्त रणवीर प्रसाद ने वर्षा की हालातो से अवगत कराते हुए बताया कि राज्य के वर्तमान में सभी तटबन्ध सुरक्षित हैं और यहां किसी प्रकार की चिन्ताजनक परिस्थिति नहीं है। गत 24 घंटे में प्रदेश में 4.1 मि0मी0 औसत वर्षा हुई है, जो सामान्य वर्षा से 9.6 मि0मी0 के सापेक्ष 43 प्रतिशत है।

इस प्रकार यूपी में 01 जून, 2021 से अब तक 411 मि0मी0 रफ्तार से वर्षा हई, जो सामान्य वर्षा 426.9 मि0मी0 के सापेक्ष 96 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि गंगा-कचलाब्रिज बदायूं, बलिया, गाजीपुर, यमुना नदी- इटावा, औरैया, जालौन, हमीरपुर, बांदा बेतवा नदी- बांदा, हमीरपुर, शारदा-नदी पलियाकलॉ खीरी, तथा क्वानों चन्द्रदीपघाट गोण्डा एवं चम्बल नदी में खतरे के जलस्तर से ऊपर बह रही है।

वर्षा से प्रभावित जिलों में सर्च एवं रेस्क्यू

प्रदेश के वर्षा से प्रभावित जिलों में सर्च एवं रेस्क्यू हेतु एन0डी0आर0एफ0, एस0डी0आर0एफ0 तथा पी0ए0सी0 की कुल 39 टीमें तैनाती की गयी है, 1133 नावें बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लगायी गयी है तथा 409 मेडिकल टीमें लगायी गयी है। एन0डी0आर0एफ0, एस0डी0आर0एफ0 द्वारा 536 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया।

राशन किट बांटे गये

उन्होंने बताया कि 24 घंटे में 1230 तथा अब तक कुल 7015 ड्राई राशन किट बांटे गये हैं। 7491 लंच पैकेट तथा अब तक कुल 28028 लंच पैकेट वितरित किए गए हैं। प्रदेश में 828 बाढ़ शरणालय तथा 976 बाढ़ चौकी स्थापित की गयी है। प्रदेश में विगत 24 घंटों में स्थापित किए गए पशु शिविर की संख्या 12 अब तक कुल 360 पशु शिविर स्थापित किये गये हैं। विगत 24 घंटों में पशु टीकाकरण की संख्या 13744 तथा अब तक कुल पशु टीकाकरण की संख्या 7,24,329 है।

Related Articles