रिसर्च : अंडा खाने से बच्चा बनेगा बुद्धिमान

0

बच्चों को बुद्धिमान बनाने के लिए हम तरह-तरह के उपाय अपनाते हैं। अंडा इसमें आपकी मदद कर सकता है। वाशिंगटन यूनिवर्सिटी की एक प्रोफेसर के मुताबिक दूध की तरह अंडे भी प्रारंभिक वृद्धि और विकास में काफी मददगार होते हैं। इनमें प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व होते हैं। अनुसंधान में छह से नौ महीने की उम्र के बच्चों को छह महीने तक एक अंडा रोजाना दिया गया।

दूसरी तरफ नियंत्रित समूह में शामिल बच्चों को अंडे नहीं नहीं दिए गये। इसके बाद आए परिणाम बेहद चौकाने वाले थे। परिणामों से पता चला कि जिन बच्चों को 6 महीने की उम्र से अंडों का सेवन कराया से कराया गया, उनमें मस्तिष्क संबंधी प्रचुर वृद्धि देखने को मिली।

अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रीशन में प्रकाशित अनुसंधान में पाया गया कि जिन बच्चों को अंडा खाने में दिया गया, उनकी कोलीन यानि विटामिन बी जैसा पोषक तत्व रक्त सांद्रता, डीएचए और अन्य मानक महत्वपूर्ण रूप से उच्च थे। ये पोषक तत्व बच्चों के मस्तिष्क विकास और कार्यप्रणाली में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

बच्चों को बुद्धिमान बनाने के लिए उन्हें बेहतर पोषक तत्वों की जरूरत होती हैं। ऐसे में हम अपने बच्चों को फल और सूखे मेवे खिलाते हैं। लेकिन हर व्यक्ति की सामर्थ ऐसी नहीं होती, कि वह अपने बच्चों को ये सब कुछ खिला सके।
ऐसे में बच्चों को अंडे खिलाना बेहतर विकल्प हो सकता है।

क्योंकि अंडे के सेवन से बच्चों के मस्तिष्क विकास में मदद मिल सकती है। अंडा बेहतर पोषक तत्वों का स्रोत होता है। अगर आप भी चाहते हैं कि आपका बच्चा बेहद इंटेलिजेंट बने तो उसकी डाइट में अंडा शामिल करना न भूलें।

loading...
शेयर करें