आ गया रिजल्ट, सिर्फ इतने प्रतिशत लोग ही पास कर पाए कांग्रेस प्रवक्ता परीक्षा

लखनऊ: यूपी में कांग्रेस प्रवक्ता पद के लिए हुई परीक्षा का परिणाम आ गया है। दो चरणों हुई इस परीक्षा के लिए कुल 491 लोगों ने आवेदन किया था। लेकिन इनमें से 82 प्रतिशत लोगों ने परीक्षा छोड़ दी और कुल 91 लोग ही परीक्षा के लिए उपस्थित हुए। इनमें से 69 लोग फेल हो गए और महज 22 लोगों को ही प्रदेश कांग्रेस की मीडिया कमिटी में जगह मिल सकी है।

पुरानी मीडिया पैनलिस्टों की टीम भी हुई फेल

कांग्रेस प्रवक्ता पद के लिए हुई इस परीक्षा में सबसे हैरान करने वाली बात ये रही कि इस परीक्षा में राज्य की पुरानी मीडिया और पैनलिस्टों की टीम के 27 लोगों भी शामिल हुए थे। इनमें से 18 लोग फेल हो गए। दरअसल, 20 जून को प्रदेश की पुरानी मीडिया इकाई भंग करने के बाद नए सिरे इसके गठन की कवायद 28 जून से शुरू हुई है। इसके लिए दो चरणों में परीक्षा आयोजित की गई। पहले चरण में 70 लोगों ने परीक्षा दी जबकि दूसरे चरण में 21 लोगों ने परीक्षा दी।

14 लोगों को पाया गया जिम्मेदारी के लायक

दोनों परीक्षाओं में कुल 22 लोग ही प्रदेश कांग्रेस की मीडिया कमेटी में जगह बना पाए। रिपोर्ट के अनुसार, पास हुए 14 लोगों में प्रवक्ता या पैनलिस्ट का काम बांट दिया जाएगा। वहीं 4 लोगों को मीडिया के इनपुट के लिए चुना गया है। इसके अलावा चार लोगों को विशेष आमंत्रित सदस्य बनाकर उनकी जिम्मेदारी को आवश्यकता के अनुसार तय कर दिया गया है।

राजीव बख्शी मिली मीडिया कमेटी की जिम्मेदारी

इस टीम का नेतृत्व राजीव बख्शी को सौंपा गया है। टीम में पार्टी के पूर्व सांसद जफर अली नकवी के बेटे सैफ अली नकवी और पूर्व सांसद पी.एल. पुनिया के पुत्र तनुज पुनिया भी शामिल हैं। मीडिया इनपुट की जिम्मेदारी सुबोध श्रीवास्तव, अजीत कुमार पांडेय, मंजू दीक्षित और मंसूर अली  को दी गई है। वहीं पूर्व प्रवक्ता वीरेंद्र मदान, अमरनाथ अग्रवाल, द्विजेंद्र त्रिपाठी और सुरेंद्र राजपूत विशेष आमंत्रित सदस्य के रूप में चुना गया है।

Related Articles