रिहाना ने किसानों का किया समर्थन, तो बौखला गई कंगना, इस क्रिकेटर को भी लगी मिर्ची

नई दिल्ली: कृषि बिल ( Agricultural Bill ) के विरोध में दिल्ली ( Delhi ) की सीमाओं पर किसान आंदोलन ( Farmer Protest ) कर रहे हैं। बिल को हटाने की मांग को लेकर दो महीने से ज्यादा समय से किसान आंदोलन पर बैठे पर हैं। किसानों का यह आंदोलन अब इतना बढ़ गया है कि इसकी गूंज विदेशों में भी सुनाई देने लगी है। अमेरिकी पॉप सिंगर ( Pop Singer) रिहाना ( Rihanna ) ने ट्वीटर पर एक रिपोर्ट शेयर करते हुए किसानों को अपना समर्थन दिया है। रिहाना के इस ट्वीट के बाद बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ( Kangana Ranaut ) बौखला गई। कंगना ने रिहाना के ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए उन्हें अपशब्द बोला। मामला यहीं नहीं रुका भारत के पूर्व क्रिकेटर प्रज्ञान ओझा ( Pragyan Ojha ) को भी रिहाना के ट्वीट से मिर्ची लग गई।

पॉप सिंगर ने किया समर्थन

दिल्ली सीमाओं पर ठंड में किसान दो महीने से कृषि बिल को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। किसानों के इस आंदोलन को कई विपक्षी पार्टियां भी सपोर्ट कर रही हैं। लेकिन कई लोगों को ये कानून ठीक लग रहा है। उनका मानना है कि किसान तानाशाही कर रहे हैं। आंदोलन अब इतना बढ़ गया है कि अब इसकी आवाज विदेशों में भी सुनाई देने लगी है। अमेरिकी ( American ) पॉप सिंगर रिहाना ने दिल्ली के सीमाओं पर विरोध कर रहे किसानों का समर्थन किया है और पुलिस द्वारा इंटरनेट सेवाओं को बंद करने पर निंदा भी की। रिहाना ने अपने ट्वीट में एक रिपोर्ट शेयर करते हुए लिखा, ‘हम इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं?’ सिंगर रिहाना के इस ट्वीट को लेकर माहौल गर्म हो गया है।

कंगना ने रिहाना को बोला मूर्ख

पॉप सिंगर रिहाना का जब ट्वीट तेजी से वायरल होने लगा तो बॉलीवुड एक्ट्रेल कंगना रनौत बौखला गई। कंगना ने उनके ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए उनको मूर्ख तक बना डाला। रिहाना के ट्वीट पर कंगना ने जवाब देते हुए लिखा, ‘कोई भी बात इसलिए नहीं कर रहा है क्योंकि ये किसान नहीं, आतंकवादी हैं। जो भारत को बांटना चाहते हैं ताकि चीन हमारे देश पर कब्जा कर ले और यूएसए जैसी चाइनीज कॉलोनी बना दे। शांति से बैठो बेवकूफ। हम तुम्हारे जैसे मूर्ख नहीं है जो अपने देश को बेच दें।’

ओझा को लगी मिर्ची

पूर्व भारतीय क्रिकेटर प्रज्ञान ओझा ने पॉप सिंगर रिहाना के ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए लिखा, ‘मेरा देश हमारे किसानों पर गर्व करता है और जानता है कि वे कितने महत्वपूर्ण हैं। मुझे विश्वास है कि इसे जल्द ही सुलझा लिया जाएगा। हमें हमारे अंदरूनी मामलों में किसी बाहरी व्यक्ति को नाक घुसेड़ने की जरूरत नहीं है।’

यह भी पढ़ें: लाल किले हिंसा की जांच करने से SC ने किया इनकार, दीप सिद्धू पर इनाम घोषित

Related Articles

Back to top button