पाकिस्तान में शार्ली हेब्दो कार्टून को लेकर फिर शुरू हुए दंगे , कई लोगों ने गवाईं जान

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के कट्‌टर इस्लामिक आर्गेनाइजेशन तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (TLP) हेड साद हुसैन रिजवी की गिरफ्तारी के बाद देश देश में riot शुरू हो गए है। इस हिंसा में सात से ज़्यादा लोगों के मरने और तीन सौ के करीब पुलिसवालों के ज़ख़्मी होने की खबर है। इस मसले में अब तक 2000 से ज़्यादा लोगों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है। इसी कड़ी में पाकिस्तान ने आर्गेनाइजेशन को टेर्ररिस्ट डिक्लेअर कर उस पर बैन लगा दिया है।

TLP चीफ को पुलिस ने किया गिरफ्तार

आपकी जानकारी के लिए बता दें की पुलिस ने पाकिस्तान ने तहरीक-ए-लब्बैक चीफ साद को 12 अप्रैल को गिरफ्तार किया था। इसके बाद हजारों लोग उसकी रिहाई की मांग करते हुए सड़कों पर उतर आए। इसके बाद बीच-बचाव करने आई पुलिस पर भीड़ ने हमला कर दिया। जान बचाने के लिए की गई पुलिस की जवाबी फायरिंग में 5 लोगों के मरने की खबर है।

जैसा की आप जानते हैं  फ्रांस की शार्ली हेब्दो मैग्जीन ने जनवरी 2015 में पैगंबर के कार्टून पब्लिश किए थे जिसके बाद  मैग्जीन के 12 कर्मचारियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पिछले साल मैग्जीन ने फिर वही कार्टून पब्लिश किए थे। उस समय साद ने पाकिस्तान की सरकार से फ्रांस के राजदूत को देश से निकालने की बात कही थी। जब सरकार नहीं मानी, तो सड़कों पर प्रोटेस्ट शुरू हो गए थे। मामले को रफा-दफा करने के लिए पाकिस्तान सरकार ने लोगों से 20 अप्रैल 2021 तक फ्रांसीसी राजदूत को देश से निकालने का वादा किया था। अब जब यह तरीक़ करीब आ गई है तो साद ने अपने समर्थकों के साथ सरकार के सामने अपनी मांग फिर दोहराई। जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर जेल में बंद कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें : Egypt ने स्वेज कैनाल चक्का जाम करने वाले एवर गिवेन पर लगाया तगड़ा जुर्माना

Related Articles

Back to top button