मरने से पहले पाकिस्तान जाने चाहते थे ऋषि कपूर, ट्वीट पर जताई थी इच्छा

ऋषि कपूर की मौत के बाद फिल्म इंडस्ट्री और फैन्स के बीच गम का माहौल है. ऋषि के जाने से उनके परिवार सहित देशभर में शोक की लहर फैली है. ऐसे में लोग अपने फेवरेट सितारे और बॉलीवुड स्टार्स अपने दोस्त और आइकॉन को याद कर रहे हैं और उनके बारे में किस्से सुना रहे हैं.

ऋषि कपूर को एक बेबाक और जिंदादिल इंसान के रूप में जाना जाता था. साथ ही वे माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर भी काफी एक्टिव थे. ऋषि हमेशा किसी भी मामले में अपनी राय बेबाकी से रखते थे. ऐसे में 3 साल पहले उन्होंने जम्मू-कश्मीर के बारे में एक ट्वीट किया था, जिसकी वजह से यूजर्स उनसे नाराज हो गए थे. ऋषि ने ये भी कहा था कि वे एक बार पाकिस्तान जाना चाहते हैं.

ये बात जब की है जब जम्मू और कश्मीर के मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्लाह ने कश्मीर को आजाद करने की बात को गलत बताया था. फारूक ने कहा था कि कश्मीर का जो हिस्सा (PoK) पाकिस्तान के पास है वो उन्हीं का है और ये बात कभी नहीं बदलने वाली भले ही भारत और पाकिस्तान के बीच कितने भी युद्ध हो जाएं.

पाकिस्तान जाना चाहते थे ऋषि कपूर

इस पर ऋषि कपूर ने फारूक की बात पर सहमती जताते हुए ट्वीट किया था. इसके साथ ही कहा था कि वे मरने से पहले एक बार पाकिस्तान जाना चाहते हैं. उन्होंने लिखा था, ‘फारूक अब्दुल्लाह जी, सलाम! मैं आपकी बात से पूरी तरह सहमत हूं सर. जम्मू और कश्मीर हमारा है और PoK उनका है. यही तरीका है हमारी मुश्किल को सुलझाने का. इस बात को अपना लिया जाए. मैं 65 साल का हूं और मरने से पहले पाकिस्तान जाना चाहता हूं. मैं चाहता हूं कि मेरे बच्चे हमारे खानदान की शुरुआत कहां से हुई वो देखें. बस करवा दीजिए. जय माता दी.’

बता दें कि कपूर खानदान का एक घर पाकिस्तान के पेशावर में है. इस घर को 1918 और 1922 के बीच में पृथ्वीराज कपूर के पिता देवन बशेस्वरनाथ कपूर ने बनवाया था. पृथ्वीराज कपूर भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में एंट्री करने वाले कपूर खंडन के पहले सदस्य थे. भारत-पाक के बंटवारे के बाद कपूर खान भारत में बस गया था.बात करें ऋषि कपूर की तो फिल्म इंडस्ट्री और कपूर परिवार ने 30 अप्रैल को उन्हें खो दिया. ऋषि दो साल से कैंसर से पीड़ित थे और अपना इलाज करवा रहे थे. ऋषि के जाने के बाद पूरी इंडस्ट्री से शोक जताया था.

Related Articles