तेल की बढ़ती कीमतों ने दीवाली में लोगो का निकाला दिवाला, खरीदारी हुई चौपट

लखनऊ: दिवाली से पहले के दिनों में वस्तुओं की कीमतों में भारी वृद्धि के कारण कई लोगों का खरीदारी बजट प्रभावित हुआ है। उन्होंने कहा कि ईंधन की कीमतों में उछाल ने त्योहारी सीजन से पहले उनके खरीदारी बजट को सीधे प्रभावित किया है।

भूतनाथ बाजार और पत्रकारपुरम बाजार में जहां भारी भीड़ देखी गई, लेकिन वहां के ग्राहकों के लिए सबसे बड़ी चिंता हर वस्तु की ऊंची कीमत थी। बाजारों में तरह-तरह के सजावटी सामान, एलईडी लाइटें, गहने, बर्तन, पटाखे और अन्य सामान की भरमार हो गई। बाजार के कई ग्राहकों ने कहा कि महंगाई के कारण उनके खरीदारी बजट पर असर पड़ा है।

दिवाली के लिए भूतनाथ बाजार की ग्राहक 45 वर्षीय सुप्रिया अग्रवाल ने कहा कि पिछले दो वर्षों से हर वस्तु की कीमतें दोगुनी हो गई हैं। “सोने, बर्तनों से लेकर सजावटी सामानों तक, इन कीमतों पर उच्च मुद्रास्फीति बहुत स्पष्ट है। मुझे बचत के अनुसार बजट का प्रबंधन करना पड़ता है और उसी के अनुसार खरीदारी करनी पड़ती है क्योंकि कई वस्तुओं की कीमतें दोगुनी हो गई हैं।”

एक निजी कंपनी में काम करने वाले 35 वर्षीय यतेंद्र चौधरी ने कहा कि पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी ने उनके जीवन को “बुनियादी जरूरतों से लेकर लक्जरी खर्च” तक सीधे प्रभावित किया है। उन्होंने कहा कि उन्होंने अपनी “बुनियादी आवश्यकता” के अनुसार त्योहारी सीजन के लिए अपनी खरीदारी सीमित रखी।

Related Articles