सिडनी में कोरोना के बढ़ते मामलों का रोहित की वापसी पर नहीं पड़ेगा असर

सिडनी में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों का टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के तीसरे टेस्ट के लिए टीम से जुड़ने पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

सिडनी: सिडनी में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों का टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के तीसरे टेस्ट के लिए टीम से जुड़ने पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

33 वर्षीय रोहित 16 दिसंबर को सिडनी आए थे और तभी से वह क्वारेंटीन में रह रहे हैं। विक्टोरिया राज्य के अधिकारियों ने बताया है कि सिडनी में 14 दिन क्वारेंटीन पूरा करके मेलबोर्न आ रहे लोगों को क्वारेंटीन में रहने की जरुरत नहीं है।

इसके अनुसार रोहित 30 दिसंबर से टीम के साथ जुड़ सकते हैं। हालांकि कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए सिडनी टेस्ट पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं और इसका स्थान बदला जा सकता है।

ऑस्ट्रेलिया से रोहित का क्वारेंटीन

समझा जाता है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से रोहित का क्वारेंटीन पीरियड मेलबोर्न में पूरा करने की अपील की थी। अगर ऐसा होता तो रोहित टीम के साथ जल्द ही जुड़ सकते थे। लेकिन बोर्ड को बताया गया कि ऐसे मामले में रोहित को विक्टोरिया सरकार के चुने गए होटल के कमरे में रहना पड़ता।

सिडनी में क्वारेंटीन के दौरान क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने रोहित के लिए अलग से अपार्टमेंट की व्यवस्था की है जहां वह ट्रेनिंग भी कर सकते हैं। ऑस्ट्रेलियाई बोर्ड का मानना है कि क्रिकेटरों के लिए इस तरह की व्यवस्था होनी चाहिए। रोहित क्वारेंटीन पीरियड पूरा करने के बाद टीम से जुड़ेंगे।

रोहित का क्वारेंटीन पीरियड

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया है कि बीसीसीआई की ओर से उसके पास रोहित का क्वारेंटीन पीरियड समय से पूर्व पूरा कराने की कोई अपील नहीं की गयी है। ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच 26 दिसंबर से दूसरा टेस्ट मेलबोर्न में होना है जबकि तीसरा टेस्ट सिडनी में खेला जाना है।

सिडनी में कोरोना का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है, ऐसे में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया तीसरे मुकाबले को भी मेलबोर्न में कराने पर विचार कर रहा है। हालांकि इस बाबत को फैसला नहीं लिया गया है।

यह भी पढ़े: चौधरी चरण सिंह जयंती: जानें कांग्रेस और बीजेपी ने क्या कहा?

Related Articles