खादी तथा ग्रामोद्योग इकाइयों को पुरस्कृत करने हेतु 10 लाख रुपये स्वीकृत -डा0 नवनीत सहगल

उत्तर प्रदेश में उत्कृष्ट उत्पादन के साथ अधिक बिक्री करने वाली खादी तथा ग्रामोद्योग इकाइयों को गत वर्ष की भांति इस वर्ष भी पुरस्कृत किया जायेगा।

लखनऊः उत्तर प्रदेश में उत्कृष्ट उत्पादन के साथ अधिक बिक्री करने वाली खादी तथा ग्रामोद्योग इकाइयों को गत वर्ष की भांति इस वर्ष भी पुरस्कृत किया जायेगा। इसके तहत राज्य स्तर पर प्रथम स्थान पाने वाली इकाई को 40 हजार रुपये तथा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जायेगा। चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट में इस पुरस्कार योजना के लिए प्राविधानित 10 लाख रुपये की स्वीकृति प्रदान कर दी गई है।

ग्रामोद्योग क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य

यह जानकारी अपर मुख्य सचिव, खादी एवं ग्रामोद्योग डा0 सहगल ने दी है। उन्होंने बताया कि बताया कि खादी ग्रामोद्योग क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले उद्यमियों, एक्सपोर्ट तथा विपणन विकास में अग्रणी संस्थाओं को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से यह योजना संचालित है। उ0प्र0 खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा वित्त पोषित खादी एवं ग्रामोद्योग इकाईयों के अच्छे एवं उत्कृष्ट उत्पाद तथा बिक्री करने वाली इकाईयों के उत्साहवर्धन हेतु मण्डल एवं राज्य स्तर पर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार तथा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जायेगा।

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि इस पुरस्कार योजना के तहत 3 राज्य स्तरीय तथा 54 मण्डलीय स्तरीय पुरस्कार प्रदान किये जायेंगे। राज्य स्तर पर प्रथम पुरस्कार पाने वाली इकाई को 40 हजार, द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाली इकाई को 30 हजार एवं तृतीय स्थान पर पाने वाली इकाई को 20 हजार रुपये की राशि प्रदान की जायेगी। इसी प्रकार मण्डल स्तर पर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली इकाई को क्रमशः 15 हजार, 12 हजार तथा 10 हजार रुपये की धनराशि देकर सम्मानित किया जायेेगा। इससे इकाइयों में प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी और उत्कृष्ट उत्पादन के साथ ही इकाइयों की आर्थिक स्थिति सुदृ़ढ़ होगी।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के क्रियान्वयन हेतु 50 करोड़ रुपये स्वीकृत

Related Articles