नेपाल की राजनीति में मचा घमासान, अपनी ही पार्टी से बाहर निकाले गए पीएम

नेपाल: नेपाल की राजनीति में सियासी घमासान मच गया है। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को अपनी ही कम्युनिस्ट पार्टी से बिना बताए बाहर निकाल दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, स्प्लिन्टर समूह के प्रवक्ता नारायण काजी श्रेष्ठ ने जानकारी देते हुए बताया है कि पीएम केपी शर्मा ओली (PM KP Sharma Oli) को कम्युनिस्ट पार्टी से उनकी सदस्यता रद्द करके बाहर निकाल दिया है। यह फैसला पीएम ओली (PM Oli) और उनके समर्थकों की गैर मौजूदगी में हुआ है।

कम्युनिस्ट पार्टी की जब बैठक हुई तब इसमें ओली संघठन के कोई भी नेता शामिल नहीं हुए थे। ऐसे में कहा जा रहा है कि पीएम ओली इस फैसले को मानने से इंकार कर सकते है। पार्टी में विपक्षी दल कई महीने से ओली के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। पहले से ही आशंका जताई जा रही थी कि नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी कभी न कभी दो धड़ों में जरूर बंटेगी।

ये भी पढ़ें : शिक्षक ही बना भक्षक, छात्रा के साथ की ऐसी खौफनाक हरकत

इससे पहले एनसीपी के अलग गुट के नेता पुष्प कमल दहल ‘प्रचंड’ ने शुक्रवार को राजधानी काठमांडो में एक बड़ी सरकार विरोधी रैली निकाली थी। उन्होंने इस रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पीएम ओली द्वारा संसद को अवैध तरीके से भंग करना देश की संघीय लोकतांत्रिक प्रणाली के लिए गंभीर खतरा पैदा हो गया है। इसके आगे उन्होंने कहा था कि ओली ने न केवल पार्टी के संविधान और प्रक्रियाओं का उल्लंघन किया है बल्कि नेपाल के संविधान की मर्यादा को भी क्षति पहुंचाई है और लोकतांत्रिक प्रणाली के विरुद्ध काम किया है।

ये भी पढ़ें : पुलिस चलाती रही चेकिंग अभियान, उधर बदमाश गोली मारकर हुए फरार

 

Related Articles