रूस: विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी को मास्को कोर्ट ने सुनाई साढ़े तीन जेल की सजा

मास्को : मास्को (Moscow) की एक अदालत ने मंगलवार को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) के सबसे बड़े आलोचक एलेक्सी नवलनी (Alexey Navalny) को साढ़े तेने साल के लिए जेल में भेज दिया। प्रोबेशन के शर्तों के उल्लंघन के आरोप में एलेक्सी नवलनी को जर्मनी से लौटने के बाद 17 जनवरी को गिरफ्तार किया गया।

अदालत में क्रेमलिन के आलोचकों ने कहा कि नवलनी कोमा में रहते हुए अपनी पैरोल की शर्तों को तोड़ी है और रूस के नेता पुतिन को जहर देने वाला कहा है। बता दें कि नर्व एजेंट (जहर) के हमले के बाद उनका जर्मनी में पांच महीने से इलाज चल रहा था, अपने ऊपर हुए नर्व एजेंट से हमले के लिए वह रूस की सरकार को दोषी बताया था। हालाकिं रुसी सरकार ने उनके आरोपों को ख़ारिज करते हुए कहा था कि जहर दिए जाने के कोई सबूत नहीं मिले थे।

इतिहास रूस के नेता को जहर देने वाले के तौर पर जानेगा

इससे पहले नवलनी (Alexey Navalny) को कई बार गिरफ्तार किया गया और हिरासत में लिया गया, लेकिन अब तक उसको लंबे समय तक के लिए सजा नहीं दी गई थी। नवलनी ने अपने खिलाफ चल रही अदालत की सुनवाई की आलोचना की है और कहा कि सरकार लाखों लोगों को डराने के लिए हम पर कार्रवाई कर रही है। अपनी गिरफ्तारी के पीछे वह पुतिन के डर और घृणा को कारण बताया और कहा कि इतिहास रूस के नेता को जहर देने वाले के तौर पर जानेगा।

सरकार की तरफ से नवलनी पर 2014 में धन शोधन में आरोप सिद्ध होने के बाद साढे तीन साल की निलंबित सजा का उलंघन करने का आरोप लगाया गया। हालाकिं नवलनी ने आरोपों को ख़ारिज करते हुए इसे राजनीति से प्रेरित बताया।

इसे भी पढ़े: कश्मीर मुद्दे को भारत-पाक को शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाना चाहिए: जनरल बाजवा

Related Articles

Back to top button