रूसी, पाकिस्तानी स्नाइपर संयुक्त सैन्य अभ्यास में हुए शामिल

वर्ष 2016 से ही पाकिस्तान और रूस की सेनायें द्रजबा-वी संयुक्त अभ्यास करती रही हैं. इसमें आतंकवाद विरोधी और विशेष सैन्य ऑपरेशन भी शामिल हैं.

मॉस्को: पाकिस्तान के तारबेला शहर में रूसी और पाकिस्तान स्नाइपर् ने आतंकवाद विरोधी छद्म युद्ध और दुश्मन को नामोनिशान मिटाने के लिए एक संयुक्त सैन्य अभ्यास द्रजबा-वी (मैत्री) में भाग लिया. रूसी रक्षा मंत्रालय ने मंगलवार को यह जानकारी दी.

संयुक्त सैन्य अभ्यास में मिश्रित टोही समूहों में दोनों देशों के सैनिकों ने एक-दूसरे के साथ अपने अनुभव साझा किए और पाकिस्तानी सशस्त्र बलों द्वारा इस्तेमाल में लाए जाने वाले रेमिंगटन 700 और एम24 स्नाइपर राइफलों पर हाथ आजमाया.
मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा, “सैनिकों ने दुश्मन की टोह लेने की तकनीक, महत्व के आधार पर लक्षित वर्गीकरण, उनकी दूरी तय करने की तकनीक पर भी काम किया.” उन्होंने कहा कि स्नाइपरों ने अलग-अलग दूरी से दुश्मन पर निशाना साधा.

वर्ष 2016 से ही पाकिस्तान और रूस की सेनायें द्रजबा-वी संयुक्त अभ्यास करती रही हैं. इसमें आतंकवाद विरोधी और विशेष सैन्य ऑपरेशन भी शामिल हैं. रूस का प्रतिनिधित्व विशेष बलों और मोटर चालित राइफल द्वारा किया जाता है, जो कराची-चर्केस गणराज्य और स्टावरोपोल क्षेत्र में तैनात है.

यह संयुक्त अभ्यास दोनों देशों की सेनाओं के अनुभवों को साझा करना है और यह दो सप्ताह तक चलेगा. इस अभ्यास का उद्देश्य आतंकवाद से निपटने के दोनों देशों की सेनाओं के अनुभवों को साझा करना है. यह आठ नवंबर से शुरू हुआ है. इस सैन्य अभ्यास में स्काई डाइविंग और बंधकों को छुड़ाने जैसी गतिविधियां होंगी. पाकिस्तान-रूस का संयुक्त सैन्य अभ्यास द्रजबा हर साल आयोजित किया जाता है.

यह भी पढ़े: 25 दिसम्बर तक सभी अनुभाग ई-ऑफिस के रूप में कार्य करें सुनिश्चित: त्रिवेंद्र

Related Articles

Back to top button