अखिलेश यादव का ऐलान, 2019 में लडूंगा लोकसभा चुनाव

लखनऊ। कैराना में हुए उपचुनाव के दौरान इवीएम खराबी का मुद्दा गरमाता जा रहा है। इसे लेकर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने आज एक प्रेस कांफ्रेंस की और बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाये। उन्होंने कहा कि एक प्लान के तहत मशीने ख़राब की गई हैं। किसान, गरीब लाइन में लगे रहे लेकिन वोट नहीं डाल पाए। उप चुनाव को प्रभावित किया गया। साथ ही उन्होंने ऐलान किया कि वो 2019 के लोकसभा चुनाव लड़ेंगे।

अखिलेश यादव

साथ ही उन्होंने आने वाले चुनाव बैलट पेपर से कराए जाने की मांग की।आपको बता दें कि 28 मई को कैराना और नूरपुर में उप चुनाव हुए थे जिसके दौरान दौरान बड़े पैमाने पर मशीनों के ख़राब होने की ख़बरें आई थीं। इस बता को लेकर अब विपक्ष एक बाद फिर बीजेपी पर हमलावर है।

इस मुद्दे को लेकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज एक प्रेस कांफ्रेंस बुलाई। यहां उन्होंने कहा कि जान बुझकर रमजान के दौरान चुनाव रखा गया। ऐसा इसलिए किया गया ताकि बड़ी संख्या में लोग मतदान करने नहीं जा सकें। कई जगह वोटिंग मशीन खराब हो गई जिसकी वजह से लोग वापस चले गए।

उन्होंने कहा इन्ही वजहों से हम चाहते हैं कि अब मतदान बैलट पेपर के माध्यम से हो। इससे लोकतंत्र मजबूत होगा। मैं उम्मीद करता हूं कि जिन इलाकों में ईवीएम खराब हुईं वहां फिर से वोटिंग कराई जाएगी। ये मेरी मांग नहीं ये सबकी मांग है कि मतदान वैलेट पेपर से हो।

इस दौरान उन्होंने पेट्रोल डीजल की महंगाई का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा ईवीएम बंद हो जाएगी लेकिन साइकिल चलती रहेगी। डीज़ल पेट्रोल की हालत देख ही रहे हो। आखिरकार साइकिल ही चलाना पड़ेगी।  उन्होंने कहा कि मुझे ख़ुशी हैं के इतने दिकत्तों के बाद लोगों ने बीजेपी के खिलाफ वोट किया।

Related Articles