साधुओं ने अखिलेश यादव को बताया ‘गजनियों’ का वंशज

अखिलेश यादव ने लोकसभा में PM मोदी के आंदोलनजीवी वाले बयान पर निशाना साधा था। जिसका पलटवार अयोध्या के निर्मोही अखाड़ा के 2 महंतों ने पलटवार किया है

लखनऊ: उत्तरप्रदेश के युवा मुख्यमंत्री रहे और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लोकसभा में PM मोदी के ‘आंदोलनजीवी’ वाले बयान पर निशाना साधा था। अखिलेश ने कहा था कि घर-घर जाकर चंदा ले रहे हैं क्या वे ‘चंदाजीवी संगठन’ के सदस्य नहीं हैं? इस बयान पर अयोध्या के निर्मोही अखाड़ा के 2 महंतों ने पलटवार किया है।

महंत ने साधा निशाना

निर्मोही अखाड़ा के महंत राजेंद्र दास ने निशाना साधते हुए कहा कि अखिलेश जी को याद होना चाहिए कि जो गजनी थे गजनी ने हजारों लाखों हिंदुओं को मरवाया था वहीं परिवार में से अखिलेश यादव जी ने जिनके बाप जो है हजारों-लाखों हिंदुओं को राम मंदिर के आंदोलन में मरवा दिया। ये यह गजनी परिवार में से है। इनको हिंदू संस्कृति, राम मंदिर या चंदा के बारे में बोलने का अधिकार ही नहीं है। ये तो मौलवियों के विषय में बोले उनका पक्ष धरें। हिंदुओं को बोलने का इनका अधिकार नहीं है।

यह भी पढ़ेयात्री वाहनों की बिक्री में 11 फ़ीसद की हुई बढ़ोत्तरी, तिपहिया में रिकॉर्ड गिरावट

अखिलेश को बताया बाबरजीवी

अखिलेश जी आप अभी भी होश में आ जाओं। आप तो सदैव ‘बाबरजीवी’ रहे हो। आप लगातार आपके पिताजी और आप उत्तरप्रदेश में जिस प्रकार से हिंदू जनमानस के ऊपर और मठ मंदिर साधु संतको को ऊपर जिस प्रकार से आपने प्रताड़ना किया। यह हर व्यक्ति जानता है उसके बाद आप बता रहे हो रामभक्तो को हिंदू जनमानस को कि  ये लोग ‘चंदा जीवी’ है।

राम के नाम पर ये लोग चंदा इकट्ठा करते हैं और कुछ भी नहीं करते तो आप देखो आपके सामने में ही बाबरी मस्जिद ध्वस्त हुआ और राम जन्म भूमि बनने जा रहा है। आपके सामने में ही 370 35A खत्म हुआ और देखिए जिस प्रकार से पूरे देश में राम भक्तों का हिंदू जनमानस का जय जयकार चल रहा है इससे आपके मन जो कुलीन भाव पैदा हो रहा है यह गलत बात है अभी भी होश में आ जाओ नहीं तो फिर सत्ता में आना आपके लिए संभव नहीं है।

यह भी पढ़ेIND vs ENG: Team India को लगा बड़ा झटका, टेस्ट सीरीज से बाहर हुआ ये खिलाड़ी

Related Articles

Back to top button