सहारनपुर: तालाब के पानी से बुझेगी लोगों की प्यास

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) के आदेशों के परिपालन में 230 तालाबों का मनरेगा के तहत सौंदर्यीकरण कराया जाएगा

सहारनपुर: उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) के आदेशों के परिपालन में 230 तालाबों का मनरेगा के तहत सौंदर्यीकरण कराया जाएगा और उनके पानी के नमूनों की जांच की जाएगी।

जिला विकास अधिकारी मंशाराम यादव ने बताया कि तालाबों के पानी को शुद्ध और पीने लायक बनाने के लिए उनके किनारे पर जल शोधन संयंत्र लगाए जाएंगे। मनरेगा के उपायुक्त अरूण उपाध्याय ने बताया कि जिले के 230 तालाबों का चयन मनरेगा योजना के तहत किया गया है। तालाबों के पानी को स्वच्छ और निर्मल बनाने की योजना पर काम किया जा रहा है।

इस तरह होगें तालाबो का निर्क्षण

पानी की जांच में देखा जाएगा कि वैक्टीरिया का स्तर क्या है। हानिकारक हैं या फिर लाभदायक हैं। कैल्शियम और मैगनिशम की मात्रा की जांच होगी। अमलता व क्षारीयता का स्तर भी देखा जाएगा। पानी में घुलनशील खनिजों की मात्रा देखी जाएगी और सोडियम एवं पोटेशियम का स्तर जांचा जाएगा।विशेषज्ञों के दल से नकुड़ क्षेत्र के गांव सुजातपुरा, ढोबरा और मामूवाला तालाबों के पानी के नमूने लेकर जांच कराई जा रही है।

यह भी पढ़ेछत्तीसगढ़ को उत्तरप्रदेश से जोड़ने वाली तीन ट्रेनों को चलाने की मंजूरी

Related Articles