अपनी जागीर पाने के लिए सैमसंग चुकाएगा अरबों का Inheritance Tax

सिओल : सरकार हो या आम इंसान सब पुरखों द्वारा जमा की गई पूंजी को अपनी जागीर समझते हैं। लेकिन कोरिया में मामला अलग है। इस कड़ी में सैमसंग ग्रुप के ओनर अपनी विरासत को पाने और सरकारी पंजे से बचाने के लिए दुनिया का अब तक का सबसे बड़ा विरासत टैक्स (Inheritance Tax) अदा करने जा रहे हैं।

कोरिया में बेहद सख्त है Inheritance Tax का नियम

खबर है सैमसंग के फाउंडर की मौत के बाद अब उनके वारिस को विरासत टैक्स के तौर पर सरकार को 80,000 करोड़ रुपये से ज्यादा अदा करने हैं। जानकारों के मुताबिक टैक्स देने के बाद ही कंपनी फाउंडर के वारिस को कानूनी तौर पर कंपनी की कमान सौंपी जाएगी।

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सैमसंग के फाउंडर ली कुन का निधन पिछले साल 25 अक्टूबर को हुआ था। ली अपने पीछे 19.6 अरब डॉलर की संपत्ति छोड़ गए हैं। ली, के परिवार में उनकी पत्नी और तीन बच्चे हैं। खबर है ली, के बड़े बेटे करप्शन के इल्ज़ाम में सलाखों के पीछे हैं। इतना मालदार होने के बावजूद ली परिवार ने अगले पांच सालों में  छह किश्तों में इस धनराशि के भुगतान का वादा किया है। जानकारों की माने तो इस महीने पहली किश्त अदा कर दी गई है।

यह भी पढ़ें : Time की पहली इन्फ्लुएंशियल कंपनियों की लिस्ट में हैं भारत की इन दो कंपनियों के नाम

Related Articles

Back to top button