कांग्रेस ने चुनाव आयोग पर लगाया बड़ा आरोप, तो इसलिए पीएम मोदी से कर रहे वफादारी

0

अहमदाबाद। गुजरात में आज विधानसभा के दूसरे और आखिरी चरण के लिए मतदान हो रहे हैं। इस चुनावी घमासान के दौरान पिछले कई महीनों से सभी पार्टियां एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रही हैं। इसी कड़ी में कांग्रेस ने पीएम मोदी और चुनाव आयोग को लेकर बड़ा बयान दिया है।

मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने मुख्य चुनाव आयुक्त पर गंभीर आरोप लगाये हैं। उनका कहना है कि मुख्य चुनाव आयुक्त गुजरात सरकार की घोटालेबाज कंपनी जीएसपीसी के प्रमुख रहे हैं। साथ ही संजय निरुपम ने ये भी कहा कि मुख्य चुनाव आयुक्त को ईनाम के तौर पर पीएम मोदी ने इतना बड़ा पद दिया है। इसलिए आज राहुल गांधी के टीवी इंटरव्यू के खिलाफ नोटिस देकर वफादारी का सबूत दे रहे हैं।

आपको बता दें कि गुजरात चुनाव के दूसरे चरण के पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मीडिया चैनल को अपना इंटरव्यू दिया था। इसके बाद भाजपा ने चुनाव आयोग से कांग्रेस की शिकायत की। भाजपा की शिकायत पर चुनाव आयोग ने गुजरात के मुख्य चुनाव अधिकारी को इन टीवी चैनलों पर एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए।

इसके साथ आयोग ने राहुल गांधी से भी जवाब तलब किया है। राहुल गांधी को 18 दिसंबर तक जवाब देना है। इस नोटिस के बाद कांग्रेस बौखाली हुयी है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने चुनाव आयोग पर दोरहा मापदंड अपनाने का आरोप लगाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के खिलाफ चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन के आरोप में कार्रवाई करने की मांग की।

सुरजेवाल का कहना है कि वर्ष 2014 में चार संहिता लागू होने के बाद नरेंद्र मोदी ने सरेआम चुनाव चिन्ह दिखाया था तब उनपर कोली कार्रवाही क्यों नहीं हुयी। उन्होंने कहा कि आयोग की दोहरी निति नहीं चलेगी। चुनाव आयोग को भाजपा नेताओं पर भी कार्रवाई करना चाहिए

 

loading...
शेयर करें