सऊदी गठबंधन ने यमन की राजधानी में किया हवाई हमला, बंदरगाह हुआ नष्ट

सना। अरब गठबंधन बलों ने यमन के लाल सागर स्थित बंदरगाह शहर हुदयदाह में हौती विद्रोहियों पर हवाई, समुद्री और जमीनी हमले करने जारी रखे हैं। सऊदी अरब व संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के नेतृत्व में गठबंधन सेनाओं ने हुदयदाह शहर के हवाईअड्डे पर कब्जा करने के उद्देश्य से छह दिन पहले हमला शुरू किया था। स्थानीय चैरिटी फाउंडेशन अल-सालेह चैरिटी फाउंडेशन से जुड़े मानवाधिकार कार्यकर्ता अदेल बिशर ने सिन्हुआ को बताया कि हवआईअड्डे से लगभग 10 किलोमीटर दक्षिणपश्चिम में लाल सागर तट से सटे मनजारा गांव को निशाना बनाकर जमीनी हमले किए जा रहे हैं।

बिशर ने कहा कि हौती विद्रोही एके-47 क्लाशनिकोव राइफलों से जवाबी हमले कर रहे हैं और गठबंधन सेना के आगे बढ़ने के कई प्रयासों को नाकाम कर चुके हैं। बिशर पिछले सप्ताह मानवीय सहायता के लिए सना से हुदयदाह जाने वाले 10 सदस्यीय टीम का भी हिस्सा थे।समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, बशीर ने कहा, “हवाईअड्डे और इसके सभी गेट और मुख्य मार्ग अभी भी हौती विद्रोहियों के ही कब्जे में हैं।”

उन्होंने कहा कि शहर के अंदर की स्थिति अपेक्षाकृत शांत है लेकिन गठबंधन लड़ाकू विमानों ने हवाईअड्डे पर सिलसिलेवार कई बार हमले किए जिससे स्थानीय निवासियों के बीच काफी डर पैदा हो गया है। हौती संचालित अल-मसीरा टेलीविजन ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि अल-दुरयाहेमी जिले और हवाईअड्डे व उसके आसपास के इलाकों में छह हवाई हमले किए गए। हालांकि, टेलीविजन रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार को हवआईअड्डे पर 26 हवाई हमले किए गए। बिशर ने कहा कि लगभग 600,000 लोगों वाले इस पूरे शहर पर अभी भी हौती विद्रोहियों का ही कब्जा है।

Related Articles