90 वर्ष की उम्र में सऊदी के तेल मंत्री अहमद जकी यामनी का हुआ निधन

सऊदी अरब: सऊदी अरब के लंबे समय तक रहे तेल मंत्री अहमद जकी यमनी (Ahmed Zaki Yamani) का 90 वर्ष की उम्र में मंगलवार को लंदन में निधन हो गया। अभी तक जकी यमनी (Zaki Yamani) निधन की वजह नहीं पता चली है। इस दुखद जानकारी को सऊदी अरब के सरकारी टेलीविजन ने दी है। साल 1973 में तेल के बाजार में जब हालात बेकाबू हो गए थे तो देश को उबारने में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी और ऊर्जा कंपनी का राष्ट्रीयकरण किया था। बताया जा रहा है कि उन्हें मुसलमानों के पवित्र शहर मक्का में दफनाया जाएगा।

1962 में बने थे तेल मंत्री

साल 1962 में अहमद जकी यमनी सऊदी अरब के तेल मंत्री बने और 1986 तक पद संभाला है। तेल उत्पादक देशों के समूह ओपेक के संचालन बोर्ड में वह 1961 में सऊदी अरब के पहले प्रतिनिधि थे। यमनी ने ओपेक में ऐसे समय महत्वपूर्ण भूमिका निभायी जब विश्व बाजार में तेल की कीमते बिगड़ गई थी। उस दौर में पश्चिमी देशों की आर्थिक नीतियों से तेल के बाजार का रुख तय हुआ था।

ये भी पढ़ें : महिलाओं में प्रजनन क्षमता बढ़ाने का ढूंढ रहें है उपाए तो इस खबर पर दें ध्यान

अमेरिका के राष्ट्रपति ने किया था समर्थन

अमेरिका के राष्ट्रपति जब रिचर्ड निक्सन बने थे तब उन्होंने इजराइल का समर्थन किया। ओपेक में अरब के तेल उत्पादकों ने हर महीने तेल उत्पादन में पांच प्रतिशत कटौती का फैसला किया। अमेरिका में तेल की कीमतों में 40 प्रतिशत बढ़ गई थी और गैसोलीन की आपूर्ति घट गई। सऊदी के शासक किंग फहद ने साल 1986 में मंत्री अहमद जकी यमनी को पद से हटा दिया था।

ये भी पढ़ें : एक्सप्रेस-वे पर भीषड़ सड़क हादसा, इनोवा पर पलटा टैंकर, मौत का मचा तांडव

Related Articles

Back to top button