BCCI अध्यक्ष बनते ही सौरभ गांगुली को होगा 7 करोड़ का घाटा, जानिए कैसे

0

बंगाल टाइगर्स के नाम से दुनियाभर में मशहूर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली 23 अक्टूबर को बीसीसीआई के अध्यक्ष पद का कार्यभार संभाल लेंगे. गांगुली के साथ उनकी पूरी टीम है जो इसी दिन अपने-अपने पद संभालेगी. दुनिया की सबसे महंगी क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई का अध्यक्ष बनना गांगुली के लिए एक गर्व की बात है. हालांकि उनके लिए ये पद संभालना एक घाटे का सौदा भी साबित होगा. जी हां, गांगुली को होने वाला घाटा कोई छोटा-मोटा नहीं बल्कि करीब 7 करोड़ का घाटा है.

बता दें कि फिलहाल सौरव गांगुली क्रिकेट कॉमेंट्री के अलावा कई कंपनी के लिए कमर्शियल विज्ञापन भी करते हैं. इन सभी जगहों से गांगुली को करीब 6 करोड़ रुपये की कमाई होती है, जो बीसीसीआई अध्यक्ष बनने के बाद बंद हो जाएगी. बीसीसीआई अध्यक्ष होते हुए गांगुली न तो कॉमेंट्री कर पाएंगे और न ही वे किसी कंपनी के लिए विज्ञापन कर सकेंगे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अध्यक्ष पद छोड़ने के बाद भी गांगुली को इन सभी चीजों से दूर रहना पड़ सकता है.

बता दें कि गांगुली 23 अक्टूबर से लेकर 22 अगस्त तक बीसीसीआई के अध्यक्ष पद पर रहेंगे, उनका कार्यकाल केवल 10 महीनों के लिए ही होगा. जिसके बाद वे सितंबर 2020 के बाद वे कूलिंग ऑफ पीरियड पर जाएंगे. बीसीसीआई की नई टीम में गांगुली के अलावा बीसीसीआई कमेटी में गृहमंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह सचिव का कार्यभार संभालेंगे. इनके साथ ही जयेश जॉर्ज बीसीसीआई के जॉइंट सेकेटरी और अरुण कुमार धूमल कोषाध्यक्ष होंगे.

loading...
शेयर करें