लाल किले हिंसा की जांच करने से SC ने किया इनकार, दीप सिद्धू पर इनाम घोषित

26 जनवरी के (गणतंत्र दिवस) दिन लाल किले में हुई हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू, हिंसा की जांच करने से सुप्रीम कोर्ट ने किया इनकार

नई दिल्ली: 26 जनवरी के (गणतंत्र दिवस) दिन लाल किले में हुई हिंसा (Red Fort Violence) को लेकर दिल्ली पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वे लापता किसानों के मामले को लेकर एलजी से जल्द मुलाकात करेंगे।

दिल्ली सरकार ने 115 गिरफ्तार हुए किसानों की लिस्ट जारी की है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि जो किसान लापता हैं उन्हें ढूंढा जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट ने लाल किले पर हुई हिंसा पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया है।

दीप सिद्धू पर इनाम घोषित

गणतंत्र दिवस हिंसा (Republic Day Violence) के मामले में दीप सिद्धू समेत आठ आरोपियों पर दिल्ली पुलिस ने इनाम घोषित किया है। इन सभी पर लोगों को हिंसा के लिए भड़काने का आरोप है। आपकी जानकारी के लिए यह बता दें कि 26 जनवरी को हुई हिंसा के बाद से ही दीप सिद्धू फरार चल रहा है। पुलिस ने अब लाल किले के सभी आरोपियों की तलाश तेज कर दी है। दिल्ली पुलिस ने दीप सिद्धू पर एक लाख का इनाम घोषित कर दिया है।

गुलाम नबी आजाद का बयान

राज्यसभा में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि सरकार को चीन, कोरोना से लड़ना चाहिए, किसानों से नहीं।देश के लिए किसान और जवान जरूरी है। किसानों के आगे तो अंग्रेज भी झुक गए थे। हम किसानों के बिना कुछ नहीं हैं।

यह भी पढ़े420 विकेट लेने के बाद डिंडा ने लिया संन्यास, ये है वजह!

राकेश टिकैत का सरकार को जवाब

किसान नेता राकेश टिकैत आज जींद जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब तक सरकार किसानों की मांगों को पूरा नहीं करेगी तब तक पूरे देश में ऐसी ही महापंचायत चलते रहेगी। उनका उद्देश्य यही रहेगा कि सभी गांव में जाकर लोगों को इकट्ठा करें। सिंघु बॉर्डर पर कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध प्रदर्शन को देखते बैरिकेडिंग और ज्यादा बढ़ा दी गई है।

यह भी पढ़ेUGC NET Exam के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू, जानिए कब तक करें अप्लाई

Related Articles

Back to top button