स्कूल की छात्रा ने किया सुसाइड, परिवार ने स्कूल प्रशासन पर रेप और हत्या का लगया आरोप

उत्तर प्रदेश के नोएडा के एक आवासीय विद्यालय में एक 14 साल की एक छात्रा फांसी के फंदे से लटकती मिली. छात्रा के परिवार का कहना है की उसके साथ बलात्कार करने के बाद उसकी हत्या करने का आरोप लगाया है. इतना ही नहीं. परिवार ने विधालय प्रशासन पर उनकी मंजूरी के बिना छात्रा का अंतिम संस्कार करने का आरोप लगाया है. पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी.नोएडा के सेक्टर 115 के आवासीय विद्यालय में तीन जुलाई को यह कथित वारदात हुई. सोशल मीडिया पर बवाल होने पर रविवार को यह मामला सामने आया. सोशल मीडिया पर छात्रा के परिवार के लिए इंसाफ की मांग की गई. हालांकि इस क्षेत्र पुलिस स्टेशन सेक्टर 49 में में अबतक केाई औपचारिक शिकायत नहीं दर्ज करायी गयी है, लेकिन वरिष्ठ अधिकारियों ने परिवार द्वारा इस संबंध में पुलिस से संपर्क किये जाने पर जांच का आश्वासन दिया है.

सीएम मनोहर लाल खट्टर को लिखा पत्र

इस बीच, हरियाणा के महेंद्रगढ जिले में इस छात्रा के परिवार ने राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को पत्र भेजकर नोएडा के संबंधित विद्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की है. यह छात्रा कक्षा दसवीं में पढ़ती थी. छात्रा की मां ने परिवार की कमजोर वित्तीय स्थिति का हवाला देते हुए लोगों से ‘इंसाफ’ दिलाने में मदद की अपील की है.अपर पुलिस उपायुक्त (जोन प्रथम) रणविजय सिंह ने कहा, “पुलिस को सोशल मीडिया से इस मामले के बारे में पता चला. परिवार ने आरोप लगाया कि लड़की से बलात्कार किया गया और उसकी हत्या कर दी गयी. इस मामले को तत्काल जांच के लिए लिया गया. पुलिस ने स्कूल प्रबंधन से संपर्क किया और मौके से सूचनाएं जुटायी हैं.”

सुसाइड नोट में लिखा ये

अपर पुलिस उपायुक्त ने कहा, “यह सामने आया कि लड़की ने तीन जुलाई को सुसाइड नोट लिखने के बाद खुदकुशी कर ली. उसने उसमें स्पष्ट लिखा है कि स्कूल समेत कोई भी उसकी आत्महत्या के लिए जिम्मेदार नहीं है. उसने अपने परिवार और उनके सामने मौजूद समस्याओं के बारे में भी लिखा है.” उन्होंने कहा कि पुलिस ने लड़की के घरवालों से संपर्क किया और उन्हें यह सूचना दी लेकिन यदि अब भी उनकी कोई शिकायत है तो वह पुलिस से संपर्क कर सकते हैं.

Related Articles