कमलनाथ के ‘आइटम’ वाले बयान पर सिंधिया का पलटवार

नई दिल्ली: बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने, कमलनाथ के ‘आइटम’ वाले बयान पर कहा, कांग्रेस पार्टी कभी भी महिलाओं का सम्मान नहीं कर सकती। इससे पहले दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस नेता मीनाक्षी नटराजन को लेकर कहा था। और अब कमलनाथ ने बीजेपी नेता इमरती देवी को ‘आइटम’ बता रहे हैं।

ज्योतिरादित्य सिंधिया का पलटवार

सिंधिया ने कहा की, इमरती देवी को ‘आइटम’ कहने के बाद अपनी सफाई देते हुए ‘कमलनाथ ने बचाव पक्ष में कहा है कि वह उनका नाम (इमरती देवी) भूल गए हैं। जो आपके मंत्रिमंडल में था, उसका नाम आप कैसे भूल सकते हैं? क्योंकि वह एक महिला हैं, दलित हैं? क्या यही उनकी और कांग्रेस की महिलाओं के बारे में सोच है? वह अहंकार से भरे हुए हैं और लोग इसे तोड़ देंगे।

सिंधिया पर कांग्रेस का आरोप

सिंधिया ने कहा, कांग्रेस उन पर आरोप लगा रही है क्योंकि उन्होंने सत्ता खो दी है। वह मध्यप्रदेश की जनता से प्यार नहीं करते और केवल सत्ता की बात करते हैं। कमलनाथ अब हर एक निर्वाचन क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं, लेकिन सीएम के रूप में उन्होंने एक भी जिले का दौरा नहीं किया है। उस समय पैसा ही उनकी एकमात्र चिंता थी, अब वे सत्ता के लिए वोट चाहते हैं।

भारत के लोकतांत्रिक इतिहास

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, मुझे नहीं लगता है कि भारत के लोकतांत्रिक इतिहास में कहीं भी ऐसी सरकार रही हो और वो भी 15 साल विपक्ष के तौर पर रहने का बाद, जहां सरकार बनने के बाद उसकी पार्टी के 22 विधायक उसका नेतृत्व छोड़ दें।

कमलनाथ का दावा

कमलनाथ का दावा है कि लोकसभा और विधानसभा में कार्यसूची को आइटम नंबर लिखा जाता है, पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में भी आइटम नंबर लिखा जाता है। क्या यह असम्मानजनक है?

यह भी पढ़े:घूस लेने के आरोपों में उत्तराखंड सीएम पर सीबीआई जांच के आदेश

यह भी पढ़े:मोदी के बिहार में चुनाव की बहार, मतदाताओं को कोविड-19 से सावधानी बरतने की अपील

Related Articles

Back to top button