SDM के ड्राइवर ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, परिवार ने लगाया उत्पीड़न का आरोप

उत्तर प्रदेश में बदायूं के दातागंज तहसील के उप जिलाधिकारी (एसडीएम) के ड्राइवर ने शनिवार को अपने सरकारी क्वार्टर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक के परिजनों ने एसडीएम पर उत्पीड़न

बदायूं: उत्तर प्रदेश में बदायूं के दातागंज तहसील के उप जिलाधिकारी (एसडीएम) के ड्राइवर ने शनिवार को अपने सरकारी क्वार्टर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक के परिजनों ने एसडीएम पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि तहसील दातागंज के उप जिलाधिकारी के ड्राइवर उपेंद्र ( 45 ) ने आज सुबह अपने सरकारी क्वार्टर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मूल रूप से मूसाझाग क्षेत्र के गुलरिया गांव निवासी मृतक रूपेंद्र के परिजनों ने एसडीएम पर गाड़ी रिपेयरिंग के भुगतान में आनाकानी करने और उत्पीड़न करने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया।

इस मामले पर दातागंज के उप जिलाधिकारी कुंवर बहादुर सिंह ने बताया कि उनका ड्राइवर रूपेंद्र पिछले लगभग 20 दिन से गाड़ी रिपेयर कराने बदायूं गैराज में गया हुआ था । कल रात वह गाड़ी लेकर वापस आया और खड़ी करके अपने सरकारी क्वार्टर में चला गया। सुबह वे तैयार होकर निकले तो उन्होंने ड्राइवर को गाड़ी लेकर आने के लिए फोन किया। कई बार फोन करने पर फोन नहीं उठा तो उन्होंने अर्दली को ड्राइवर के क्वार्टर में भेजा जहां ड्राइवर का शव फांसी के फंदे पर लटका हुआ था।

उन्होंने तत्काल पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है। घटना पर बदायूं के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने बताया कि दातागंज के एसडीएम के ड्राइवर द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या करने का मामला संज्ञान में आया है । मामले की जांच की जा रही है । पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।

ये भी पढ़े : बिहार इलेक्शन अपडेट : तीसरे चरण में तीन बजे तक 45.85 प्रतिशत लोगों ने डाले वोट

Related Articles

Back to top button