सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल का दूसरी बार सफल परीक्षण

परीक्षण के दौरान पूरे मिशन पर राडार तथा अन्य उपकरणों से निगरानी रखी गई।

नई दिल्ली: रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने तुरंत जवाबी कार्रवाई करते हुए सतह से हवा में मार करने वाली क्यूआरएसएम मिसाइल का दूसरी बार सफल परीक्षण किया है।

मिसाइल का परीक्षण आज ओडिशा में चांदीपुर स्थित एकीकृत परीक्षण रेंज में किया गया और इसने सभी मानकों को पूरा करते हुए हवा में अपने लक्ष्य पर सटीक निशाना लगाया।

रडार से रखी गई मिसाइल उपकरणों पर निगरानी

परीक्षण के दौरान पूरे मिशन पर राडार तथा अन्य उपकरणों से निगरानी रखी गई । इस परीक्षण में डीआरडीओ की पुणे स्थित एआरडीई एवं आरएनडीए प्रयोगशालाओं के वैज्ञानिकों ने हिस्सा लिया। इस मिसाइल का पहला परीक्षण गत शुक्रवार को किया गया था।

रक्षा मंत्री ने वैज्ञानिकों को दी बधाई 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉक्टर जी सतीश रेड्डी ने परीक्षण करने वाले वैज्ञानिकों की टीम को मिसाइल के सफल परीक्षण पर बधाई दी है। रक्षामंत्री ने वैज्ञानिकों का उत्साह बढ़ाते हुए उनके देश के लिए किये गए कार्यों के लिए उन्हें धन्यवाद दिया।

यह भी पढ़ें- कोरोना से स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा, साढ़े चार लाख से कम हुए सक्रिय मामले

यह भी पढ़ें- कोविड-19 की रोकथाम के लिए तुर्की में आंशिक कर्फ्यू, सप्ताह के अंतिम दिन बंद रहेंगे रेस्तरां और कैफे

Related Articles