कई देशो में कोरोना की दूसरी लहर, दोबारा लॉक डाउन की तैयारी

International: कोरोना वायरस का कहर दुनिया के अधिकतर देशों में अभी भी जारी है, इस वायरस के आये करीब दस महीने हो गए है लेकिन इस आधुनिक दुनिया में भी अभी तक इसको रोकने का कोई दवा नहीं बन पाई है। अधिकतर देश अभी तक इससे लड़ने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क, और संक्रमित के लक्षण दिखने पर इलाज की नाकाम कोशिश कर रहे है। दुनिया के कई देशो में दूसरी लहर भी देखने को मिल रह है। जिसकी वजह से एक बार फिर कई देश लॉक डाउन वाले पुराने रणनीति पर काम करने को मजबूर हो रहे है।

Will Warming Weather Kill Off Covid-19? Scientists Aren't Sure - Caixin Global

 

इजराइल ने तो कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए अपने देश में शुक्रवार से दोबारा तीन हफ्ते का लॉक डाउन लगा दिया है। इस दौरान लोगों को अपने घरों में ही रहना होगा और बहुत जरुरी होगा तो अधिकतम एक किमी के एरिया में आ-जा सकते है। इजरायल के अलावा कई अन्य देश भी लॉक डाउन की तरफ बढ़ रहे है। इंग्लॅण्ड के पीएम बोरिस जॉनसन ने भी कहा कि ब्रिटेन में कोरोना की दूसरी लहर आ सकती है। जिसको देखते हुए ब्रिटेन एक बार फिर 6 महीने के तक लॉक डाउन की तैयारी कर रहा है।

WHO ने भी यूरोप में कोरोना की दूसरी लहर चिंता जाहिर की है, विश्व स्वास्थ संगठन ने कहा कि यूरोप में कोरोना के बढ़ते आकड़े खतरे को दर्शा रहा है। WHO के क्षेत्रीय निदेशक हंस क्लूज ने कहा कि इस वक्त यूरोप में कोरोना के नए ममलों की संख्या में तेज वृद्धि हुई है, इस वक्त यूरोप में हर हफ्ते में तीन लाख से ज्यादा केसेस आ रहे है, जबकि मार्च-अप्रैल में जब कोरोना अपने पीक पर था, तब भी इतने केसेस नहीं आ रहे थे।

इसे भी पढ़े:

कोरोना के मामले 53 लाख के पार, पहली बार 24 घंटे में नए मामले से ज्यादा ठीक होने वालों का आकंड़ा

बता दें कि यूरोप के करीब आधे देशो में कोरोना के नए मामले में एक हफ्ते के दौरान दस फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज हुई है। कोरोना के दूसरे चरण को लेकर ब्रिटेन, अन्य देशों स्पेन और फ्रांस से लगभग 6 हफ्ते पीछे है। लेकिन यह निश्चित है कि ब्रिटेन में भी कोरोना का दूसरा लहर सामने आएगा।

Related Articles

Back to top button