नाइजीरिया में प्रदर्शनकारियों पर सुरक्षा बलों की गोलीबारी, कई लोगों की हुई मौत

प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि पुलिस की तरफ से की गई फायरिंग के बाद क़रीब 20 लोगों की लाशें देख और बताया कि करीब 50 लोग घायल हुए हैं।

लागोस: ग़ैर-कानूनी गिरफ्तारी, शोषण-उत्पीड़न और जबरन गोलीबारी के आरोपों से घिरे नाइजीरिया की एक पुलिस इकाई SARS को बंद करने की मांग को लेकर वहां क़रीब दो हफ्ते पहले विरोध-प्रदर्शन शुरू हुए थे। नाइजीरिन राष्ट्रपति मुहम्मदु बुहारी ने कुछ दिनों पहले इस पुलिस इकाई के खिलाफ उपजे विरोध को देखते हुए इसे भंग कर दिया था। लेकिन इसके बावजूद प्रदर्शनकारियों ने सुरक्षाबलों में बदलावों की मांग और देश की व्यवस्था में सुधार को लेकर आपन प्रदर्शन जारी रखा। वहीं इस मामले में लागोस के गवर्नर बाबाजीडे सान्वो-ओलू ने कहा कि अपराधियों ने इस विरोध-प्रदर्शन को हाइजैक कर लिया था।

ये भी पढ़ें : पराली जलाना दण्डनीय अपराध, 18 किसानों पर एफआईआर

नाइजीरिया के सबसे बड़े शहर लागोस में पुलिस की बर्बरता के ख़िलाफ़ लोगों के विरोध प्रदर्शन में कई की मौत हो गई है और कई गंभीर रूप से घायल हैं। एक समाचार एजेंसी ने नाइजीरिया में लोगों से बात की जो इस घटना के प्रत्यक्षदर्शी थे। उन्होंने पुलिस की तरफ से की गई फायरिंग के बाद क़रीब 20 लोगों की लाशें देख और बताया कि करीब 50 लोग घायल हुए हैं।

एमनेस्टी इंटरनेशनल ने बताया है कि उसके पास इन मौतों से जुड़ी पुख़्ता रिपोर्ट है। लागोस प्रशासन ने इस गोलीबारी के मामले में जाँच का आश्वासन दिया है। वहीँ इस घटना के बाद लागोस और दूसरे इलाकों में कर्फ़्यू लागू कर दिया गया है। बता दें कि भंग की जा चुकी पुलिस इकाई, स्पेशल एंटी-रॉबरी स्क्वॉड (SARS) के ख़िलाफ़ नाइजीरिया के लेगोस में बीते दो हफ़्तों से विरोश-प्रदर्शन हो रहे थे।

 ये भी पढ़ें : विश्व धरोहर कालका-शिमला रेलवे ट्रैक पर रेल संचालन शुरू

 

 

Related Articles