देश का देखें बुरा हाल, बांस और कपड़े के झोली में डालकर गर्भवती को ले गए अस्पताल

बड़वानी: मध्यप्रदेश (Madhyapradesh) के बड़वानी जिले से सरकार की नाकामियों की पोल खोलती हुई एक वीडियो सामने आई है। सरकार तो बड़े बड़े दावे करती है, लेकिन आज भी कई राज्य में इलाज के नाम पर सरकार शून्य नजर आती है। ताजा मामला बड़वानी जिले के खमघाट गांव का है, यहां एक 20 साल की गर्भवती (pregnant) महिला को एक झोली में डालकर उसके रिश्तेदार आठ किमी चलकर अस्पताल (hospital) लेकर गए। जिस सड़क पर जाते हुए दिखाई दें रहे है वो खस्ताहाल है, उसपर कोई वाहन नहीं चल सकता, इस कारण महिला को बांस और कपड़े के झोली में डालकर अस्पताल ले गए।

कपड़े और बांस की डंडियों से बना स्ट्रेचर

ये वायरल वीडियो खमघाट गांव का है, यहां से कुछ लोग रानीकाजल तक कपड़े और बांस की डंडियों से बने स्ट्रेचर को महिला के कंधों पर लादकर अस्पताल ले जाते हुए दिखाई दें रहे हैं। यह घटना बीते गुरुवार की है। जब इसका पता लगाया गया तो उनकी पहचान महिला के परिवार के सदस्यों और ग्रामीणों के रूप में हुई।

सड़क के बुरे हाल

एक ग्रामीण राय सिंह ने बताया कि वह कई समय से गांव की सड़क का निर्माण के लिए आवेदन कर रहा है लेकिन कोई सुनी नही जा रही है। सड़क के अभाव में, वाहन गांव तक नहीं पहुंच पाते और एक अस्पताल तक पहुंचना मुश्किल है। इसलिए महिला को इलाज के लिए खमघाट से रानीकाजल तक आठ किमी तक ले जाना पड़ा। हमारे यहां से पनसेमल अस्पताल करीब 20 किमी दूर है।

वीडियो वायरल पर हिले जिला पंचायत के सीईओ

वायरल वीडियो के बाद जिला पंचायत के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) ऋतुराज सिंह से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि वह संबंधित विभाग के साथ सड़कों का मुद्दा उठाएंगे। मैं प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत सड़क निर्माण के लिए संबंधित विभाग से भी बात करूंगा।

 

Related Articles