आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को मिली मंजूरी, इतने लोगों को मिलेगा फायदा

नई दिल्ली: रोजगार को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार ने ‘आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना’ को मंजूरी दे दी है। सरकार ने संगठित क्षेत्र में रोजगार को प्रोत्साहन देने के लिए 22 हजार 810 करोड़ रुपए की मंजूरी दी है। जिससे 15000 रुपए मासिक से कम वेतन पाने वाले कर्मचारियों को लाभ होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस प्रस्ताव को पास किया गया।

‘आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना’ को मंजूरी

कैबिनट बैठक के बाद श्रम और रोजगार मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए इस प्रस्ताव के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आत्मनिर्भर भारत पैकेज- तीन के अंतर्गत शुरू की गई आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की अवधि दो साल के लिए होगी। इस योजना में एक अक्टूबर 2020 से लेकर 30 जून 2021 तक रोजगार पाने वाले कर्मचारी शामिल होंगे।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान संगठित क्षेत्र में रोजगार पाने वाले कर्मचारी और देने वाले नियोक्ता इसका लाभ ले सकेंगे। योजना में कुल 22 हजार 810 करोड़ रुपए व्यय किए जाएगें। चालू वित्त वर्ष में 1584 करोड़ रुपए खर्च किये जाएगें। उन्होंने बताया कि इस योजना से तकरीबन 58.5 लाख कर्मचारियों को लाभ मिलेगा।

यह भी पढ़ें: किसान आंदोलन: आपत्तियों पर सरकार खुले मन से विचार करने को तैयार

Related Articles