IPL
IPL

वरिष्ठ नागरिकों को लगता है, आर्थिक मुद्दे देश के लिए प्रमुख चिंता

नई दिल्ली: देश के अधिकांश वरिष्ठ नागरिकों का मानना है कि अर्थव्यवस्था (Economy) की मौजूदा स्थिति उन सबसे बड़े मुद्दों में शामिल है, जिनका भारत (India) को तुरंत समाधान करने की जरूरत है। मैक्स समूह इकाई अंतरा द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण के मुताबिक, दूसरी शीर्ष चिंता बेरोजगारी है।

इसके अलावा, कोरोना वायरस (COVID-19) संक्रमण और सामाजिक अलगाव का डर लॉकडाउन के दौरान वरिष्ठ नागरिकों के लिए दो बड़ी चिंताएं थीं। सर्वे में आधे से ज्यादा बुजुर्गो ने कहा कि भारत ने कोविड-19 महामारी को संभालने की पूरी कोशिश की है। दुनिया भर में एक स्थापित और स्वीकार्य उद्योग होने के बावजूद, वरिष्ठ नागरिकों की देखभाल सेवाएं अभी भी भारत में एक प्रारंभिक चरण में हैं।

ये भी पढ़ें : ISL का सातवां सीजन: जमशेदपुर को हराकर पांचवें स्थान पर पहुंची हाईलैंडर्स

अंतरा के एमडी और सीईओ रजित मेहता ने कहा, उनकी (वरिष्ठ भारतीयों) की जरूरतें और आकांक्षाएं काफी आगे आ गई हैं। वे अब अर्थव्यवस्था में सक्रिय योगदानकर्ता बनना चाहते हैं, गरिमा के साथ जीवन व्यतीत करना चाहते हैं।

ये भी पढ़ें : कोरोना का होगा खात्मा, अनेक देशों में शुरू हुआ कोविड-19 का टीकाकरण

Related Articles

Back to top button