अवैध नशीली गोलियां रखने पर 15 वर्ष कठोर कारावास की सजा

विशिष्ट लोक अभियोजक दिनेश दाधीच ने बताया कि पीलीबंगा में न्यू राहुल मेडिकल स्टोर पर औषधि निरीक्षक सुखदीपकौर द्वारा सात फरवरी 2015 को आकस्मिक जांच की गई थी।

श्रीगंगानगर: राजस्थान के हनुमानगढ़ में एनडीपीएस एक्ट मामलों की विशेष अदालत एक मेडिकल स्टोर के संचालक जगदीश नायक को अवैध रूप से भारी मात्रा में नशीली गोलियां रखने का आरोप प्रमाणित पाए जाने पर आज 15 वर्ष कठोर कारावास की सजा सुनाई और डेढ़ लाख का जुर्माना लगाया।

विशिष्ट लोक अभियोजक दिनेश दाधीच ने बताया कि पीलीबंगा में न्यू राहुल मेडिकल स्टोर पर औषधि निरीक्षक सुखदीपकौर द्वारा सात फरवरी 2015 को आकस्मिक जांच की गई थी। संचालक जगदीश नायक निवासी जाखडावाली फरार हो गया। औषधि नियंत्रक अधिकारी ने मेडिकल स्टोर को सील कर दिया। जगदीश को नोटिस देकर तलब किया। औषधि नियंत्रक अधिकारी प्रेमसिंह द्वारा जांच करने पर भारी मात्रा में बिना लाइसेंस की अवैध नशीली गोलियां बरामद हुईं, जिसका कुल वजन 31 किलो 112 ग्राम होना पाया गया।

आरोपी जगदीश के विरुद्ध पीलीबंगा थाना में एनडीपीएस एक्ट में मामला दर्ज किया गया। अभियोजन पक्ष की ओर से अदालत में 15 गवाह तथा 62 दस्तावेज पेश किए गए। इनके आधार पर आज न्यायाधीश वीरेंद्र जसूजा ने जगदीश को 15 वर्ष कठोर कारावास की सजा सुनाई और डेढ़ लाख का जुर्माना लगाया। जुर्माना अदा नहीं करने पर जगदीश को एक वर्ष की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। वह गिरफ्तारी के बाद से न्यायिक हिरासत में था। उसकी जमानत नहीं हुई।

यह भी पढ़े:

Related Articles