दिल्ली के छात्रों के लिए बनेगा अलग शिक्षा बोर्ड और नया पाठ्यक्रम

केजरीवाल सरकार दिल्ली के छात्रों के लिए नए पाठ्यक्रम और दिल्ली शिक्षा बोर्ड बनाने पर काम कर रही है।

नई दिल्ली: केजरीवाल सरकार दिल्ली (Delhi) के छात्रों के लिए नए पाठ्यक्रम और दिल्ली शिक्षा बोर्ड (Delhi Board of Education) बनाने पर काम कर रही है। वहीं, शिक्षक-प्रशिक्षण को बेहतर करने के लिए विशेषज्ञ शिक्षकों का कैडर बनाने का प्रस्ताव है। दिल्ली (Delhi) में शिक्षा के स्तर को बेहतर करने के लिए शंघाई, जापान और फिनलैंड जैसे देशों से भी चर्चा हुई है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने शिक्षा को आगे ले जाने के व्यापक विषयों पर चर्चा की जरूरत बताई।

उन्होंने कहा, “संबंधित नियम कानूनों को बेहतर बनाने के साथ ही दिल्ली में हम नए पाठ्यक्रम और दिल्ली शिक्षा बोर्ड बनाने पर काम कर रहे हैं। हमारे जिन स्कूलों के बच्चे अच्छा रिजल्ट लेकर निकल रहे हैं, उनका समाज के विभिन्न मुद्दों पर क्या माइंडसेट है, यह समझना जरूरी है। वे धर्म, जाति, रंगभेद पर क्या सोचते हैं, महिलाओं के प्रति उनका व्यवहार क्या है, यह देखना जरूरी है।”

ये भी पढ़ें : GST के घोटालेबाजों पर बड़ी कार्रवाई, 89 लोग गिरफ्तार

दिल्ली की शिक्षा क्रांति को देखने कई राज्यों की टीमें पहुंची

सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली की शिक्षा क्रांति को देखने विभिन्न राज्यों की टीमें आई हैं। लेकिन आंध्रप्रदेश के शिक्षा मंत्री ने जिस तरह दिलचस्पी लेकर साथ काम करने और आंध्र आने का आमंत्रण दिया है, यह काफी स्वागत योग्य है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया तथा आंध्रप्रदेश के शिक्षा मंत्री डॉ. औडिमुलापु सुरेश ने रविवार को दिल्ली सरकार के अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा सम्मेलन के समापन समारोह को संबोधित किया।

ये भी पढ़ें : कश्मीर में मंदिरों के जीर्णोद्धार का काम फरवरी के अंत होगा पूरा

Related Articles