आगरा एक्सप्रेस-वे की सर्विस लेन धंसी, 50 फीट गहरे गड्ढे में गिरी एसयूवी कार

0

आगरा: सूबे की पूर्व समाजवादी सरकार में बने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे को देश का सबसे बेहतरीन सड़क मार्ग होने का दावा किया गया था। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इसे देश का सबसे बेहतर और तेज सड़क निर्माण बताया था। लेकिन इस बार बारिश में एक्सप्रेस-वे की मजबूती की पोल खुल गई है। बुधवार को ताज एक्सप्रेस-वे की सर्विस लेन 50 फीट धंस गई। इसकी चपेट में एक कार आ गई और गड्ढे में गिर गई। गनीमत रही की कार में सवार चार लोग बच गए।

50 फीट गहरे गड्ढे में गिरी कार

हादसा आगरा के डौकी क्षेत्र में वाजिदपुर पुलिया का है। बताया जा रहा है कि कार में चार लोग सवार थे और वे मुंबई से कन्नौज आ रहे थे। बीच में ही एक्सप्रेस-वे की सर्विस लेन धंसी हुई थी। यही नहीं 50 फीट गहरा गड्ढा भी हो गया था। इसी दौरान तेज रफ्तार में आ रही एसयूवी कार गड्ढे में जा गिरी। गनीमत रही कि कार सीधी गिरी, जिससे गड्ढे में फंस गई और कार में फंसे चार लोगों को सही सलामत निकाला जा सका।

मुंबई से सेकेंड हैं एसयूवी खरीदकर लौट रहे थे कन्नौज

पुलिस ने बताया कि कि रचित अपने रिश्तेदारों के साथ मुंबई से सेकंड हैंड इंडीवर कार खरीदकर कन्नौज आ रहे थे। रचित ने बताया, “वह गूगल मैप की सहायता से गाड़ी ड्राइव कर रहा था। बीच में नेटवर्क फेल होने पर सर्विस लेन पर आ गया। सर्विस लेन पर गड्ढा दिखा तो मैंने ब्रेक लगाया। स्पीड तेज होने की वजह से कार गड्ढे तक आ गई और तभी कार के नीचे की जमीन धंस गई। हम कार समेत 50 फीट नीचे चले गए।”

13,200 करोड़ में तैयार हुआ था हाईवे

आपको बता दें कि लखनऊ-आगरा हाईवे पूर्व की अखिलेश सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट था। जिसे 22 महीने के रिकॉर्ड समय में तैयार किया गया था। इसे बनाने में 13,200 करोड़ रुपए की लागत आई। स्थानीय लोगों का कहना है कि हाईवे को जल्दबाजी में तैयार किया गया था। अब कई जगह पर सड़क के नीचे की मिट्‌टी धंस रही है। पिछले दिनों इस हाईवे पर कई जगह दरारें भी आ गईं।

loading...
शेयर करें