जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव होते ही यूपी के 9 जिलों में बदल गए डीएम

transfer-400x200लखनऊ। जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव होते ही शासन ने 9 जिलों में नए डीएम की तैनाती कर दी है।  इनमें सात की तैनाती के आदेश 1 जनवरी को जारी किए गए थे लेकिन जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव के चलते राज्य निर्वाचन आयोग ने इन्हें कार्यमुक्त करने की अनुमति नहीं दी थी। बृहस्पतिवार को इन्हें कार्यमुक्त करने के आदेश जारी कर दिए गए। इसके अलावा दो और जिलों में नए डीएम की तैनाती की गई है।

शासन ने 1 जनवरी को बाराबंकी के डीएम योगेश्वर राम मिश्र को फैजाबाद तथा तमिलनाडु काडर के आईएएस अफसर अजय यादव को बाराबंकी के डीएम के पद पर तैनाती दी थी। इसी तरह बलरामपुर के मुख्य विकास अधिकारी अखंड प्रताप सिंह को कौशांबी, फैजाबाद के डीएम रहे अनिल धींगरा को हापुड़, हापुड़ के जिलाधिकारी अजय यादव को एटा, एटा की डीएम निधि केसरवानी को फीरोजाबाद और फीरोजाबाद के डीएम विजय कृष्ण आनंद को बिजनौर के जिलाधिकारी पद पर तैनाती दी गई थी।
गुरुवार को जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव खत्म होने के साथ ही इन सभी को रिलीव करके नए तैनाती स्थल पर कार्यभार ग्रहण करने की हरी झंडी दे दी गई।
इसके साथ ही दो और जिलों में नए डीएम की तैनाती की गई है। शमीम अहमद को अबरार अहमद के स्थान पर हाथरस का नया डीएम बनाया गया है। अबरार को विशेष सचिव नियोजन के पद पर तैनाती दी गई है। अजय दीप सिंह को बागपत का नया डीएम बनाया गया है। बागपत के डीएम पद से हटाए गए एनएस पांडेय को वेटिंग में रखा गया है।

यह भी पढ़ें – जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में कौन जीता-कौन हारा…देखिए पूरी लिस्ट

यह भी पढ़ें- गोरखपुरः 7 वोट से तय हुई हार जीत, 11 रद, एक रोका गया

यह भी पढ़ें – भाजपा के बागी विधायक व निष्कासित सपा नेता धरने पर

 

यह भी पढ़ें-

वाराणसी में मोदी पर भारी पड़े CM अ‍खिलेश– उत्तर प्रदेश की सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी (सपा) ने वाराणसी से सांसद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में हुए जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को जोरदार पटकनी दी है। इस जगह बीजेपी के प्रत्याशी का हारना बड़ी बात मानी जा रही है। सपा के प्रत्याशी को जीत मिली है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button