सोनीपत में जहरीली शराब पीने से संदिग्ध हालत में सात लोगों की मौत

शहर थाना क्षेत्र में तीन दिन से लोगों की मौत का सिलसिला जारी है. गोहाना बाइपास क्षेत्र में बुधवार को भी सात लोगों की मौत हो गई. सोमवार और मंगलवार को भी इसी क्षेत्र में 17 लोगों की मौत हुई थी.

सोनीपत: हरियाणा में सोनीपत शहर थाना क्षेत्र की कालोनियों में संदिग्ध अवस्था में महज 12 घंटे में सात लोगों की जान चली गई. तीन दिन में अब तक 24 लोगों की जान जा चुकी है.

इनमें कई मौत शराब पीने के बाद होने की बात कही जा रही है. मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक ने अस्पताल में भर्ती कई लोगों से बातचीत की.

शराब पीने से हो रही लोगों की मौत

शहर थाना क्षेत्र में तीन दिन से लोगों की मौत का सिलसिला जारी है. गोहाना बाइपास क्षेत्र में बुधवार को भी सात लोगों की मौत हो गई. सोमवार और मंगलवार को भी इसी क्षेत्र में 17 लोगों की मौत हुई थी. एक के बाद एक शमशान स्थल में शव आने से लोगों को कुछ शक हुआ तो पता चला कि कई की मौत शराब पीने के बाद हुई है. ऐसे में आशंका गहरा गई. बुधवार को फिर से सात शव शमशान घाट में पहुंचे. जिसका पता लगने पर मौत के कारण जानने के लिए पुलिस ने चार शवों को कब्जे में लेकर बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया है. जिसमें मयूर विहार के बलजीत, शास्त्री कालोनी का संदीप, हनुमान नगर का मनोज और श्यामनगर का मुकेश शामिल है.

अवैध शराब बनी जान की दुश्मन

बताया गया है कि इनमें एक के पेट में शुरुआती जांच में जहरीला रसायन मिला है. जिसके बाद बिसरा जांच को भेजा गया है. बिसरा रिपोर्ट में पता लग सकेगा कि मौत का असल कारण क्या रहा. वहीं इसी बीच इस क्षेत्र के महेंद्र नाम के व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया तो उपायुक्त श्यामलाल पूनिया, पुलिस अधीक्षक जश्नदीप सिंह और सीएमओ जेएस पूनिया ने स्वयं उससे पूछताछ की. उसने बताया है कि उसने चीनी मिल व गोहाना रोड पेट्रोल पंप के सामने से अवैध शराब खरीदकर पी थी. जिसके बाद उसकी हालत बिगड़ गई. ऐसे में डीसी ने इसकी जांच के आदेश दिए हैं. वहीं पुलिस ने भी इस क्षेत्र से अवैध रूप से खरीदी शराब को नहीं पीने की हिदायत दी है.

श्यामलाल पूनिया ने कहा कि पहले हुई मौत के मामले में पोस्टमार्टम नहीं होने से कारणों का पता नहीं लग सका. अब चार लोगों के शवों के पोस्टमार्टम कराए गए हैं. बिसरा जांच से मौत के कारणों की पुष्टि हो सकेगी. एक व्यक्ति जिसकी हालत बिगड़ी है उसने अवैध शराब पीने की बात कही है. पूरे मामले की जांच कराई जाएगी.

यह भी पढ़े: बिहार राज्य की नीतीश और मोदी सरकार है डबल इंजन की सरकार : सीएम योगी

Related Articles

Back to top button